उत्तरकाशी: डीएम ने गंगा में गिर रहे नाले की सफाई करवाने के दिए निर्देश, किया नोडल अधिकारियों को तैनात।

उत्तरकाशी: डीएम ने गंगा में गिर रहे नाले की सफाई करवाने के दिए निर्देश, किया नोडल अधिकारियों को तैनात।

- in Uttarkashi
148
0

वीरेंद्र सिंह /उत्तरकाशी

16 मई, 2018
गंगा (भागीरथी) नदी में गिर रहे नालों की नाला गेंग के माध्यम से सफाई करवाई जाएगी। प्रत्येक नालों की सफाई के लिए गेंग के साथ नोडल अधिकारी तैनात किए जाएंगे।
जिलाधिकारी डा. आषीश चौहान ने मंगलवार देर सांय नमामि गंगे एवं सीवरेज प्लांट को लेकर संबंधित अधिकारियों की बैठक जिला सभागार में ली। गंगा नदी में गिर रहें नालों एवं सीवर प्लांट व नमामि गंगे के अर्न्तगत नवीनीकृत घाटों की जानकारी संबंधित अधिकारियों से ली। उन्होंने गंगा नदी में गिर रहें नालों की बृहद रूप से ऊपर से निचे तक सफाई करवाने के निर्देष ईओ को दिए। प्रत्येक नालों की सफाई के लिए नाला गेंग के साथ नोडल अधिकारी तैनात कर जिम्मेदारी तय की है। रोस्टर के तहत नोडल अधिकारी की देखरेख में सम्पूर्ण नालें की सफाई समय-समय पर होती रहेगी। उन्होंने कहा कि तिलोथ, केदारघाट, बाल्मिकी बस्ती सहित कुल पांच नालों को सीवरेज लाईन से जोड़ा गए है। षेश नालों को भी नमामि गंगे परियोजना के तहत षीघ्र सीवरेज लाईन से जोड़े जाएंगे। उन्होंने कहा कि गंगा नदी कि अविरल धारा को स्वच्छ रखने के लिए सामूहिक कार्य करने की भी आवष्यकता है। उन्होंने स्थानीय लोगों से भी गंगा को स्वच्छ रखने की अपील की है। वहीं सहायक अभिंयता सिंचाई ने नमामि गंगे परियोजना के तहत कराए जा रहे घाटों के निर्माण के बारे में विस्तार से जानकारी दी। बताया गया कि घाटों का निर्माण कार्य 35 प्रतिषत कर लिया गया है तथा कार्य गतिमान में है।
जिलाधिकारी श्री चौहान ने कहा कि पिट के भरे जाने के कारण सीवरेज लाईन चोक हो जाने पर अब आधुनिक सक्षन मषीन से पिट को खाली करवाया जाएगा। इसके लिए उन्होंने प्रत्येक वार्ड में पटवारी के साथ दो नगर पालिका कर्मचारी सहित तीन लोगों की सर्वे टीम बनाने के निर्देष दिए। जो प्रत्येक वार्ड में जाकर भरी पिट की रिर्पोट उपलब्ध कराएंगे। अगले सात दिनों के भीतर भरी पिट को सक्षन मषीन से खाली करवाने के निर्देष ईओ को दिए। पिट खाली होने पर सीवरेज नालियों के चोक होने से निजात मिल जाएगी। जोषियाड़ा में सड़क के किनारे बंद पड़ी नाली की सफाई करवाने के निर्देष अधिषासी अभियंता लोनिवि को दिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

पिथौरागढ़ : कुमांऊ आयुक्त जिला चिकित्सालय पिथौरागढ़ का निरीक्षण

  सनसनी सुराग / पिथौरागढ़ आयुक्त कुमांऊ मण्डल