उत्तरकाशी : हरे ही नहीं सूखे पेड़ों को भी इंतजार है रिवरफ्रंट पार्क की खूबसूरती बढ़ाने का

उत्तरकाशी : हरे ही नहीं सूखे पेड़ों को भी इंतजार है रिवरफ्रंट पार्क की खूबसूरती बढ़ाने का

- in Uttarkashi
68
0

 

संतोष साह /उत्तरकाशी
उत्तरकाशी। सूखे वृक्ष भी कलाकृति मे बदल सकते है जो न केवल आकर्षक होते हैं बल्कि टूरिज्म मे भी आमद बढ़ा सकते है। देश व विदेश मे कई स्थानों मे सूखे पेड़ों में कलाकृति के जरिए शिल्पकारों ने उन्हें बेहद आकर्षक बनाया है। एक लीडिंग नेशनल समाचार पत्र की पत्रिका में सूखे पेड़ों को सुरक्षित रखते हुए उनमें कलाकृति के जरिये आकर्षण के केंद्र बने पेड़ो के बारे मे जो थोड़ा बहुत जानकारी मिली उसमें पेड़ों को कलाकृति का आकार देने वालों मे एक शिल्पकार दीप का कहना था कि सूखे पेड़ की छाल उतारकर उनकी भीतरी सतह तक पहुंचना जरूरी है। उनका यह भी कहना था कि सूखे पेड़ के जड़ों मे भी नींव रखनी होगी ताकि पेड़ झुके नहीं। जिसके उपरांत पेड को बिभिन्न तरीके से कलाकृति का रूप दिया जा सकता है।
इधर उत्तरकाशी मे डीएम डॉ आशीष चौहान की बेहतर सोच और पहल पर बने रिवर फ्रंट पार्क के दोनों तरफ चंद दूरी पर दो विशाल सूखे पेड भी सम्भवतः अपने वेलकम का इंतजार करते नजर आ रहे है। पिछले कुछ सालों से दोनों पेड़ सूखे होने के बावजूद डट कर खड़े हैं। आंधी तूफ़ान भी इनका बाल बांका नहीं कर पाया है। संभवतः पार्क के दोनो सिरों मे खड़े ये पेड़ भी रिवरफ्रंट पार्क की सुंदरता को ओर खूबसूरत बना सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

बिना पंजीयन कराए चल रहे ई रिक्शा पर होगी कार्यवाही- विश्वजीत प्रताप सिंह

शासन द्वारा पंजीयन कराने के बाद ही सड़कों