उत्तरकाशी : धूम धाम से मनाया गया सेलकू लोकोत्सव, विधायक गोपाल रावत ने की 5 लाख की घोषणा

उत्तरकाशी : धूम धाम से मनाया गया सेलकू लोकोत्सव, विधायक गोपाल रावत ने की 5 लाख की घोषणा

- in Uttarkashi
539
0

 

वीरेंद्र सिंह / उत्तरकाशी

गंगाघाटी के भटवाड़ी विकास खंड में सेलकू लोकोत्सव को धूमधाम से मनाने की शुरूआत सोमवार से हो गयी है। समूचे टकनौर क्षेत्र के सभी गांवों में तिथिवार आयोजित सेलकू लोकोत्सव में शामिल होने के लिये टकनौर क्षेत्र के ग्रामीण भारी संख्या में अपने-अपने गावों में जुट रहे हैं।

शरद ऋतु में तैयार नई फसल की कटाई और बुग्यालों (हिमालयी घास के मैदान) में महीनों बिताने के बाद सकुशल अपने घर लौटने वाले गांव के चरवाहों के अपने परिवार से मिलन की खुशी के अवसर पर सेलकू थौलू का आयोजन किया जाता है।

सोमवार को अराध्य देव सोमेष्व महाराज की देव डोली की मौजूदगी में रेथल गांव में आयोजित दो दिवसीय सेलकू मेले का आगाज हुआ। सेलकू मेले में गंगोत्री विधायक गोपाल सिंह रावत ने बतौर मुख्य अतिथि के रुप मे शिरकत की। रैथल पहुंचते ही विधायक का ग्रामीणों ने फूल मालओं के साथ जोरदार स्वागत करते हुए षॉल एवं स्मृति चिन्ह् भेंट किया। इस दौरान उन्होंने सेलकू मेले में ग्रामीणों के साथ रासौ भी लगाया।

विधायक रावत ने सोमेष्वर महाराज से जनपद की खुषहाली की कामना करते हुए मेलार्थियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि थौलू/मेले हमारी धरोहर है, ऐसे पुराने मेलों से जहां हमारे रीति रिवाज जुड़े हैं वहीं हमारी स्थानीय संस्कृति को भी बढ़ावा मिलता है।

उन्होंने कहा कि थौलू-मेला मेल-मिलाप का माध्यम है तथा हमे अपनी संस्कृति का बोध कराती है। उन्होंने कहा कि ठांडी एवं उपरीकोट में भेडू कू थौलू स्थानीय संस्कृति से रूबरू करने वाले मेले आज भी देखने को मिलते है।

विधायक रावत ने बताया कि रैथल-दयारा बुग्याल ट्रेक रूट का जीर्णोद्वार सिडकुल के माध्यम से कराया जाएगा। उन्होंने ने जानकारी दी कि मा. मुख्यमंत्री जी की ओर से ट्रेक रूट के जीर्णोद्वार के लिए 05 लाख रूपये धनराषि की स्वीकृति मिल चुकी है और षीध्र ही ट्रेक रूट का कार्य प्रारम्भ करने का भरोसा दिया।उन्होंने कहा कि ट्रैक रूट के बनने से जहां देषी विदेषी पर्यटक दयारा का रूख करेंगे वहीं दयारा बटर फेस्टिवल/अंडूड़ी को भी और अत्यधिक बढ़ावा मिलेगा। विधायक ने कहा कि रेथल-दयारा बुग्याल ट्रेक बनने के बाद षीर्घ ही बार्सू-दयारा ट्रेक रूट का भी सुदृढ़ीकरण किया जायेगा।

उन्होंने कहा कि पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए सरकार संकल्पित है दयारा बुग्याल ट्रेक रूट को विकसित करने के साथ ही ट्रेक रूटों पर पर्यटकों को मूलभूत सुविधाओं हेतु धूप व बारिष से बचाने हेतु सौ-सौ मीटर पर स्थानीय संस्कृति एवं कलाकृतियों की नकापपोषी के माध्यम से पत्थरों के शेड बनाएं जाएंगे। ताकि पर्यटक धूप व बारिष में इन शेडों के नीचे विश्राम कर आराम फरमा सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

प्राथमिक विद्यालय बदलूगढ़ कैराना में बाल दिवस को बड़ी धूमधाम से मनाया गया

सनसनी सुराग न्यूज जनपद शामली राकेश सैनी व