उत्तरकाशी: जिलाधिकारी के नेतृत्व में धराली बाजार से मलबा हटाने का कार्य युद्व स्तर चलाया गया।

उत्तरकाशी: जिलाधिकारी के नेतृत्व में धराली बाजार से मलबा हटाने का कार्य युद्व स्तर चलाया गया।

- in Uttarkashi
53
0

उत्तरकाशी/सनसनी सुराग

बुधवार देर सांय भारी बारिष से खीर गंगा में तेज बहाव के साथ मिट्टी मलबा धराली कस्बे में गंगोत्री हाइवे बन्द हो गया साथ ही कस्बे के मन्दिर व दुकानों, घरों में मलबा घुस गया । जिलाधिकारी वृहस्पतिवार को प्रातः ही धराली पहंुचे व मलबा हटाने का कार्य युद्व स्तर पर कराकर स्वयं यातायात सुचारू करने में लग गये। उन्होंने अधिकारियों के साथ ही एसडीआफ, पुलिस के साथ जेसीबी डोजर लगाकर गंगोत्री से आ रहे कावड़ यात्रियों के वाहनों को निकाल कर यातायात बहाल किया।
जिलाधिकारी के नेतृत्व में धराली बाजार से मलबा हटाने का कार्य युद्व स्तर चलाया गया। उन्होंने कहा कि जब तक पूर्ण मलबा हटाने तथा अन्य राहत कार्य नही जायेंगे तबतक एसडीआरएफ, अधिकारी मय उपकरणों, मषीनों के साथ धराली मे ही अवस्थान करेंगे। उन्होंने नोडल अधिकारी को कार्यों में तेजी लाने के निर्देष दिये।
मौके पर उपजिलाधिकारी भटवाड़ी देवेन्द्र नेगी, अधिषासी अभियंता लोनिवि, बीआरओ, एसडीआरएफ, पुलिस आदि मौजूद थे।
इसके उपरान्त धराली से यातायात बहाल होने के बाद कावड़ यात्रियों के साथ ही चैपहिया, दुपहिया वाहन हर्षिल से डबरानी होते हुए करीब 4ः45 बजे सांय डबरानी से दो किमी आगे डीएम स्पिल के पास ऊपर से पहाड़ टूटने के कारण सड़क मार्ग पूर्णतया बन्द हो गया। मौके पर जेसीबी मौजूद थी मगर मलबे में पत्थन इतनी अधिक मात्रा एवं बड़े बोल्डर आने के कारण जेसीबी बड़े बोल्डरों साफ नही कर पाई। गंगनानी से दो जेसीबी दूसरी ओर से मलबे को हटाने के लिए बुलाई गयी। जिलाधिकारी डा0 आषीष चैहान भी सड़क मार्ग बन्द होने की सूचना पाते ही धराली से डीएम स्पिल पहंुचे तथा तीनों जेसीबी मषीनों को दोनों ओर से मलबा हटाने में लगाई गई। किन्तु रात्रि 12 बजे तक मलबा नही हट पाया जिलाधिकारी स्वयं 12 बजे रात्रि तक मौक पर मौजूद रहे। जिलाधिकारी ने सड़क बंद होने के कारण फंसे लगभग 1 हाजर कावड़ यात्रियों की डबरानी में भोजन तथा जलपान की निःषुल्क व्यवस्था करवाई। षुक्रवार प्रातः से ही जेसीबी मषीन के साथ ही पोकलैण्ड मषीनों के द्वारा मलबा हटाने का कार्य प्रारम्भ किया गया। आज सुबह करीब 9ः20 बजे मलबा हटाकर यातायात के लिए मार्ग को सुचारू किया गया। मार्ग खुलते ही कावड़ी यात्री अपने-अपने गंतब्य को रवाना हुए
मौके पर जिलाधिकारी डा0 आषीष चैहान, उपजिलाधिकारी देवेन्द्र नेगी, सीओ बीआरओ सत्यजीत मोहंती,अधिषासी अभियंता लोनिवि आर.एस खत्री,अपदा प्रबंधन समन्वयक जय पंवार आदि मौजूद थे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

उत्तरकाशी: दम तोडता राजकीय आयुर्वेदिक चिकित्सालय मनेरी।

वीरेंद्र सिंह /सनसनी सुराग उत्तरकाशी जर्जर हालात राजकीय