शामली जनपद की कमान मृदुभाषी एवं व्यवहार कुशल पुलिस कप्तान अजय कुमार के हाथों में

शामली जनपद की कमान मृदुभाषी एवं व्यवहार कुशल पुलिस कप्तान अजय कुमार के हाथों में

- in Saharanpur, Shamli, states, Uttar Pradesh
150
0
@admin

 कप्तान डा. अजय पाल शर्मा एवं दिनेश कुमार भी अपराधियों के खिलाफ चला चुके हैं सार्थक अपराध उन्मूलन अभियान

  • तस्लीम बेनक़ाब व डॉ0 रणवीर सिंह /  सनसनी सुराग न्यूज / शामली

मुजफ्फरनगर से अलग हुआ शामली जिला अपराध की दृष्टि से संवेदनशील माना जाता है यहां पर के कप्तान अपनी अलग अलग कार्यप्रणाली के लिए खूब चर्चाओं में रहे यदि भाजपा सरकार के समय के बाद की बात करें तो डॉ अजय पाल शर्मा हालांकि सपा सरकार में भी शामली के कप्तान थे लेकिन सत्ता परिवर्तन होने के बाद उनको बदला नहीं गया उन्होंने अपने दम पर कार्य करते हुए इनामी बदमाशों को मुठभेड़ में मार गिराया तो कई को लंगड़ा और लुला किया उनके कार्य प्रणाली जबरदस्त गूंज बचाने में सफल रही शासन स्तर पर उनको काम करने का भरपूर मौका मिला शामली जनपद से अपराध काफी हद तक कम हुआ तथा सर्वाधिक शामली जनपद में हुई इसी का परिणाम रहा कि डॉ अजय पाल शर्मा को शामली के बाद बहुत ही महत्वपूर्ण नोएडा जनपद की कमान सौंपी गई*

*उन के बाद कप्तान दिनेश कुमार पी को तैनात किया गया उन्होंने भी बेहतर ढंग से काम किया तथा मुठभेड़ शैली को अपनाया लेकिन पुलिस वालों से राइफल लूटने के मामले में शामली पुलिस की काफी किरकिरी हुई लेकिन बहुत ही जद्दोजहद और कड़ी मेहनत के बाद पुलिस ने इस घटना से पर्दा उठाते हुए रेफर लूटने वाले बदमाशों को गिरफ्तार किया यह मामला लखनऊ तक गूंजता रहा राइफल बरामद होने के बाद पुलिस ने राहत की सांस ली कप्तान दिनेश कुमार पी शामली में एक बेहतर पहचान छोड़ने में कामयाब रहे,*

*उनके बाद अब कप्तान अजय कुमार को शामली की कमान सौंपी गई है अजय कुमार यहां से पूर्व कई महत्वपूर्ण जिलों में तैनात रह चुके हैं तथा अपनी सेवाएं दे चुके हैं इन्होंने फिरोजाबाद जिले में तैनात रहते हुए वहां को कायापलट की तथा कई स्कूलों में सुधार भी कराया इतना ही नहीं उन्होंने एक स्कूल को गोद भी लिया यदि उनकी सर्विस की बात करें तो इनके पास इस सेवा में आने के लिए आखिरी मौका था और इन्होंने पूरी लगन के साथ काम करते हुए इस एग्जाम को पास करते हुए महत्वपूर्ण उपलब्धि प्राप्त की य जहां भी रहे अपने अंदाज में काम करने के लिए मशहूर है यह बहुत ही अच्छे व्यक्तित्व के स्वामी हैं तथा मधुर भाषी होने के साथ साथ व्यवहार कुशलता के धनी हैं अब उनके लिए शामली जिला का भी चुनौतीपूर्ण रहेगा क्योंकि यहां पर अपराध का बोलबाला है तथा अपराधियों को जातिगत एवं धार्मिक आधार पर सरंक्षण दिए जाने की परंपरा भी किसी से छिपी नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

उत्तरकाशी : तीन राज्यों में जीत के बाद कांग्रेसियों में ख़ुशी की लहर

उत्तरकाशी राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ में सम्पन्न हुए