राजनीति में आध्यात्म का प्रवेश जरूरी, वाहिनी इसके लिये प्रतिबद्ध — अखिलेश तिवाड़ी

राजनीति में आध्यात्म का प्रवेश जरूरी, वाहिनी इसके लिये प्रतिबद्ध — अखिलेश तिवाड़ी

- in Dholpur
157
0

 

धौलपुर(रोहित शर्मा)- वाहिनी के सचिव अखिलेश तिवाड़ी ने कहा कि वर्तमान राजनीति युवाओं के साथ अन्याय कर रही है। हमारे राजनेता इस लायक ही नहीं है जो प्रतिभाशाली युवाओं को नेतृत्व प्रदान कर सके और उर्जावान बच्चों को भविष्य का भारत दे सके। ​उन्होंने कहा कि आज की शिक्षा व्यवस्था इतनी खराब है कि देश का एक भी कॉलेज विश्व के प्रथम दो सौ स्थानों में भी जगह नहीं बना पाया। श्री तिवाड़ी सोमवार को धौलपुर के प्रधान कॉम्पलैक्स में आयोजित चंद्रगुप्त निर्माण कार्यशाला में उपस्थित युवाओं से संवाद कर रहे थे। श्री अखिलेश तिवाड़ी का यह दौरा वाहिनी के संगठन विस्तार के लिये आयोजित किया गया है। वे प्रदेश में राजनीति को नई दिशा देने और दशा बदलने के लिए निरंतर दौरा कर रहे हैं। इस दौरान धौलपुर के युवाओं को वर्तमान राजनीति में युवाओं की शक्ति का उपयोग व राजनीतिक दशा दिशा में बदलाव करने का प्रशिक्षण भी दिया गया।

सभी समस्याओं का समाधान आध्यात्म में
श्री अखिलेश तिवाड़ी ने कहा कि हमने पिछले सत्तर वर्षों में समाज को जातियों, धर्मों, सम्प्रदायों और यहां तक की गोत्रों में बांट दिया। जबकि राजनीति का मूल काम समाज को जोड़ना व समरसता पैदा करना है। श्री तिवाड़ी ने कहा कि इसके लिये नये युवाओं को चंद्रगुप्त बनना होगा। जब तक राजनीति में आध्यात्म प्रवेश नहीं करेगा तब तक किसी भी समस्या का समाधान नहीं होने वाला। राजनीति में आध्यात्म को प्रवेश कराने का कार्य वाहिनी करेगी। श्री तिवाड़ी ने कहा कि आत्म ज्ञान राजनीति का सबसे महत्वपूर्ण विषय है। स्वज्ञान हमें स्वराज की ओर ले जाता है और जब ऐसा होता है तभी लोकतंत्र सिद्ध होता है। जब तक ऐसा नहीं होता तब तक आपकी कठिनाइयों का अंत कोई राजनेता या राजनीतिक दल नहीं कर सकता।

नेतृत्व के सारे गुण हैं ​श्री घनश्याम तिवाड़ी में
वाहिनी के प्रदेश कार्यकारिणी गठन समिति के संयोजक श्री अंकित शर्मा ने कहा कि श्री घनश्याम तिवाड़ी जी ने अपने मंत्रीत्वकाल में लीक से हटकर कानून बनवाया और साढ़े आठ हजार विधवाओं—परित्यक्ताओं और 1 लाख से अधिक युवाओं को नौकरी दिलवाई। शर्मा ने इस दौरान श्री घनश्याम तिवाड़ी के आपातकाल के दौरान की एक घटना सुनाई। उन्होंने कहा कि श्री तिवाड़ी ने विपरीत परिस्थितियों में भी विरोधियों द्वारा प्रताड़ित किये जा रहे साथियों का सहयोग किया। इसे ही सही मायने में नेतृत्व कौशल कहा जाता है। वहीं वाहिनी के प्रदेश कार्यसमिति सदस्य श्री सुधांशु जैन ने वाहिनी के प्रमुख मुद्दों पर बातचीत की। उन्होंने कहा कि वाहिनी अपनी शुरूआत से ही किसान, बिजली, आर्थिक न्याय, सामाजिक समरसता, वंचित वर्ग को आरक्षण के मुद्दों पर स्पष्ट है।

कार्यशाला के दौरान ही युवा वाहिनी की कुछ संगठनात्मक घोषणाएं भी की गई। इसके तहत बाड़ी के संगीत को भरतपुर संभाग का उपाध्यक्ष और राजाखेड़ा से संदीप को महासचिव नियुक्त किया गया। साथ ही जयसिंह गुर्जर को धौलपुर विधानसभा का युवा वाहिनी का अध्यक्ष नियुक्त किया गया। बाडी विधानसभा अध्यक्ष के लिए रविन्द्र, सुनील जगरिया को धौलपुर जिला समन्वयक व जयंत को सह समन्वयक की घोषणा की गई।

ये लोग भी थे मौजूद
इससे पहले बाड़ी और छावनी में बड़ी संख्या में लोगों ने श्री अखिलेश तिवाड़ी का स्वागत किया। कई जगहों पर गांव चौपाल का भी आयोजन किया गया। कार्यक्रम में करौली के पूर्व भाजपा जिला अध्यक्ष महेन्द्र सिंह मीणा मुख्य अतिथि ​थे। इनके अलावा प्रदेश कार्यसमिति सदस्य लक्ष्मीकांत शर्मा सरमथूरा से,प्रमोद शर्मा बाडी काशीराम पाराशर भी उपस्थित ​थे। कार्यशाला के समापन पर कार्यक्रम संयोजक विप्र संजीव ने सभी आगंतुकों को धन्यवाद ज्ञापित किया। उन्होंने कहा कि धौलपुर युवा वाहिनी शीघ्र ही पूरे जिले में कार्यकारिणी का गठन करेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

मेरठ — अतुल की पदयात्रा को अखिलेश का ग्रीन सिग्नल

  मेरठ मौ० रविश सपा नेता अतुल प्रधान