उत्तरकाशी : टिहरी संसदीय सीट राजाशाही मजबूरी,मगर चौकीदार जरूरी

उत्तरकाशी : टिहरी संसदीय सीट राजाशाही मजबूरी,मगर चौकीदार जरूरी

- in article, states, Uttarakhand, Uttarkashi
597
0
@admin
  • संतोष साह / उत्तरकाशी

टिहरी संसदीय सीट में राजशाही मजबूरी लेकिन चौकीदार जरूरी यह कुछ भाजपाईयो की अंतरात्मा कह रही है। भाजपा आलाकमान ने भले ही अभी टिकट घोषित नहीं किये लेकिन जिस तरह से एक बार फिर सीटिंग सांसद को ही पुनः टिकट मिलने की बात की जा रही है उससे पार्टी के कार्यकर्ताओ में जो उत्साह होना था वह नजर नहीं आ रहा है। पार्टी के ही लोग टिकट में बदलाव हो तो उसे सुखद मानने की बात कर रहे हैं। इनकी अंतरात्मा की आवाज भी कह रही है कि टिहरी संसदीय सीट में बदलाव हो लेकिन मजबूर हैं वह इसलिये कि मजबूरी जो भी हो चौकीदार जो जरूरी है।

टिहरी संसदीय सीट में इन दिनों भाजपा के पाले में यही चर्चा है कि टिकट में बदलाव हो। भाजपाईयो का मानना है कि सांसद का प्रतिनिधित्व देने के लिये ऐसा कैंडिडेट हो जो खुलकर जनता व पार्टी कार्यकर्ताओं के बीच हो। पिछले 5 साल में जनता के बीच के रिपोर्ट कार्ड को लेकर भी भाजपाई खुश नही है। संसदीय इलाके के तमाम इलाकों से भी सांसद की दूरी की नाराजगी अब सामने आ रही है जिसे अंदरूनी भाजपाई भी महसूस कर रहे हैं।
इस बीच पार्टी के अंदर भी टिकट में बदलाव हो इस पर चर्चा तो है लेकिन भाजपाई आलाकमान के आगे नतमस्तक हैं। भाजपा की अंदरूनी खबरें जो छन कर आ रही हैं उसमें पूर्व मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा को टिकट दिये जाने के अधिकांश भाजपाई पक्षधर हैं। बताया जा रहा है कि अधिकांश विधायक व संगठन से जुड़े लोग भी बहुगुणा को प्रत्याशी बनाये जाने के न केवल पक्षधर हैं बल्कि यह भी मान रहे हैं कि  बहुगुणा को टिकट मिलने से प्रमुख विपक्षी दल कांग्रेस को घेरने का भी एक बड़ा हथियार मिल जाएगा। इसके अलावा श्री बहुगुणा पूर्व में इस संसदीय सीट से एक बार सांसद भी जीते है। जिसका भी लाभ पार्टी को मिलेगा। प्रदेश के मुख्यमंत्री रहते उन्होंने इस संसदीय इलाके में एक बड़े हिस्से को ओबीसी का भी लाभ दिलाया था। कार्यकर्ताओं की माने तो बहुगुणा को सांसद का टिकट मिलने और उनके सांसद बनने से कार्यकर्ता खुलकर अपनी बात भी रख सकेंगे।

इस बीच टिहरी संसदीय सीट से भाजपा में टिकट फाइनल नही हुआ है। चर्चा महारानी को ही टिकट रिपीट किये जाने की सुगबुगाहट है लेकिन टिकट की दावेदारी में विजय बहुगुणा भी है। अधिकांश जिला, मंडल व पार्टी के सर्वे के तहत भाजपा आलाकमान के पास पैनल में उक्त दो नामों के ही भेजे जाने की जानकारी है। बहरहाल अब देखना है कि भाजपा किसे टिहरी संसदीय सीट से छुनाव मैदान में उतारती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

आवारा पशुओं से निजात दिलाने की मांग की

रवीश /  लावड़ क़स्बे के युवाओ ने नगर