पुलवामा आतंकी हमला : पूरे दक्षिण कश्‍मीर में मोबाइल इंटरनेट सेवाएं बंद की गई

पुलवामा आतंकी हमला : पूरे दक्षिण कश्‍मीर में मोबाइल इंटरनेट सेवाएं बंद की गई

- in Jammu & Kashmir, states
305
0

सनसनी सुराग न्यूज
डॉ0 रणवीर सिंह वर्मा
यह हमला उरी से भी बड़ा बताया जा रहा है. क्‍योंकि इसमें शहीद होने वाले सैन‍िकों की संख्‍या लगातार बढ़ रही है. यह आतंकी हमला पुलवामा जिले के अवंतीपोरा के गोरीपोरा इलाके में हुआ.

जम्‍मू और कश्‍मीर में 2019 का सबसे बड़ा आतंकी हमला हुआ है. जम्‍मू से श्रीनगर जा रहे सीआरपीएफ के काफ‍िले पर ये हमला गुरुवार दोपहर को क‍िया गया. समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार, इस हमले में सीआरपीएफ के 18 जवानों शहीद होने की खबर है. आतंकियों ने इलाके में जवानों पर पहले गोलीबारी की और फिर उन पर कार के जरिये आईईडी ब्‍लास्‍ट किया. उरी के बाद ये सबसे बड़ा आतंकी हमला बताया जा रहा है. यह आतंकी हमला पुलवामा जिले के अवंतीपोरा के गोरीपोरा इलाके में हुआ.LIVE टीवी
सुरक्षा अधिकारी के मुताबि‍क जम्मू कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ जवानों को निशाना बना कर किये गये आईईडी विस्फोट की जैश-ए-मोहम्मद ने जिम्मेदारी ली है. सूत्रों के अनुसार कहा जा रहा है कि ये एक आत्‍मघाती हमला है. इस आत्‍मघाती हमले को जैश के आतंकी आद‍िल अहमद डार ने अंजाम दिया. हमले में 45 से ज्‍यादा जवान घायल हुए हैं.

हमला तब हुआ जब सीआरपीएफ का काफ‍िला जम्‍मू से कश्‍मीर जा रहा था. काफ‍िले में 70 वाहन थे. इसमें से एक बस को सबसे ज्‍यादा नुकसान उठाना पड़ा है. सेना से जुड़े अध‍िकार‍ियों का कहना है कि 2001-02 में आतंकियों ने इसी तरह के फ‍िदायीन हमले को अंजाम दिया है. सेना का कहना है कि सेना ने ज‍िस तरह से आतंक‍ियों के ख्‍ािलाफ ऑपरेशन चलाया है, उसमें उनकी बौखलाहट बढ़ गई है. इसी कारण उन्‍होंने आईएसआईएस की तर्ज पर ये हमला किया है.

पुलिस के अनुसार, पुलवामा जिले में श्रीनगर-जम्मू राजमार्ग सीआरपीएफ के काफ‍िले में 2500 जवान शामिल थे. इसमें एक बस में 20 से ज्‍यादा जवान मौजूद थे. आतंक‍ियों ने काफ‍िले पर आईईडी विस्फोट करते हुए  सीआरपीएफ के वाहन पर गोलियां बरसाईं. सुरक्षाबलों का यह काफिला श्रीनगर-जम्मू हाईवे से होकर जा रहा था. यह एक मात्र हाइवे है, जो कश्मीर घाटी को देश के बाकी हिस्सों से जोड़ता है. भारी बर्फबारी के कारण 7 दिनों के बाद 13 फरवरी को इस राजमार्ग पर यातायात फिर से शुरू किया गया था.

धमाका इतना जबरदस्त था कि बस के परखच्चे उड़ गए. पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि जिले के अवंतिपुरा इलाके में श्रीनगर जम्मू राजमार्ग पर यह आईईडी विस्फोट हुआ.  पुलिस ने आतंकवादी की पहचान पुलवामा के काकापोरा के रहने वाले आदिल अहमद के तौर पर की है. उन्होंने बताया कि अहमद 2018 में जैश-ए-मोहम्मद में शामिल हुआ था.

सीआरपीएफ के सूत्रों का कहना है कि सड़क पर एक चार पहिया वाहन में IED लगाया गया था. कार हाईवे पर खड़ी थी. जैसे ही सुरक्षाबलों का काफिला कार के पास से गुजरा, उसमें ब्लास्ट हो गया. इस दौरान काफिले पर फायरिंग की भी खबर है. इस हमले में 39 सीआरपीएफ जवानों की मौत गई, जबकि 18 गंभीर रूप से घायल हो गए हैं. सबसे अधिक संभावना है कि यह एक रिमोट कंट्रोल्ड व्हीकल आईईडी था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

लखनऊ आगामी लोकसभा चुनावों के मद्देनजर DGP ने की मातहतों के साथ VC के जरिये की समीक्षा बैठक…..

सनसनी सुराग न्यूज तस्लीम बेनकाब बैठक में अपराध,कानून