उत्तरकाशी : बगैर टेप के कब तक गंगा गंदे नालों को सहेगी, आखिर कहां है गंगा एक्शन प्लान

उत्तरकाशी : बगैर टेप के कब तक गंगा गंदे नालों को सहेगी, आखिर कहां है गंगा एक्शन प्लान

- in article, states, Uttarakhand, Uttarkashi
166
0
@admin
  • संतोष साह / उत्तरकाशी

उत्तरकाशी नगर में गंदे नाले खुलेआम गंगा में जा रहे हैं औऱ इसका स्पष्टीकरण भी नाले ही दे रहे हैं। नगर में दोनों ओर आबादी बहुल इलाकों से तकरीबन एक दर्जन से अधिक नालों का मुंह व निकासी गंगा में ही है जो कि गंगा की स्वच्छता व निर्मलता पर चोट पहुंचा रहे हैं। ऐसे में बगैर टेप किये नालों का सीधे गंगा में प्रविष्ट होना गंगा एक्शन प्लान के मुंह मे किसी तमाचे से कम नहीं। गंगा की स्वच्छता की बात होती है तो यह बताना भी जरूरी है कि जहां गंगा में सीधे नाले मिल रहे हैं वहाँ पर गंगा जल आचमन लायक भी नही रहा।

वैसे उत्तरकाशी नगर में गंदगी ने तो हदें ही पार कर दी हैं फिर चाहे वह गंगा को मैला करने की ही क्यों न हो? सालों से चल रहा गंगा एक्शन प्लान यदि गंभीर होता तो आज गंगा में ये नौबत न आती। खुलेआम जो गंदे नाले गंगा में समा रहे हैं उनको टेप करने की जो योजना थी यदि वह धरातल पर उतरती तो निश्चित गंगा का उद्धार होता। हालात ये हैं कि तिलोथ,नगर, जोशियाड़ा, ज्ञानसू के आबादी एरिया से जो भी गंदे नाले हैं उन सब को गंगा ढो रही है। सूत्रों की माने तो कई जगह से तो मल मूत्र भी गंगा में जा रहा है। कुछ बुद्धिजीवियों की माने तो गंगा किनारे कुछ ऐसे महानुभाव भी हैं जो हर बरसात का इंतजार इसलिए करते हैं कि जब इस दौरान गंगा उफ़ान में रहती है तो ऐसे लोग अपने घरों के सेफ्टिक टैंक खाली कर देते हैं। वैसे इसके सबसे बड़े उदाहरण 2012 औऱ 2013 की आई बाढ़ के दौरान भी देखे गए जहां लोगों ने अपनी गंदगी के टैंकों का मुहाना या फिर अंडरग्राउंड रास्ता गंगा की ओर डाइवर्ट किया था। ऐसे में अवेरनेस की बात भी बेमानी लगती है तो वहीं गंगा के नाम पर कथित एनजीओ जो कि गंगा स्वच्छता के नाम पर ढकोसला पीट अपना राग अलापते हैं को देखकर लगता है कि आज गंगा के नाम पर सिर्फ व सिर्फ खानापूर्ति कर गंगा को स्वच्छ व निर्मल बनाया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

उत्तरकाशी : जिले के आल वेदर निर्माण स्थलों में आपातकालीन सूचना के नंबर बोर्ड गायब, नियमों की अनदेखी

संतोष साह / उत्तरकाशी कोई शिकायत न करे