पिथौरागढ़: विभिन्न विभागों के लोक सूचना अधिकारियों को दो दिवसीय सूचना के अधिकार अधिनियम के संबंध में दिया जा रहा प्रशिक्षण।

पिथौरागढ़: विभिन्न विभागों के लोक सूचना अधिकारियों को दो दिवसीय सूचना के अधिकार अधिनियम के संबंध में दिया जा रहा प्रशिक्षण।

- in Pithoragarh
272
0

पिथौरागढ़/सनसनी सुराग

उत्तराखंड प्रशासनिक अकेडमी नैनीताल के तत्वावधान् में जिला पंचायत सभाागार पिथौरागढ़ में दो दिवसीय सूचना के अधिकार अधिनियम-2005 के अंतर्गत जनपद पिथौरागढ़ के विभिन्न विभागों के लोक सूचना अधिकारियों को दो दिवसीय सूचना के अधिकार अधिनियम के संबंध में प्रशिक्षण दिया जा रहा है जिसका समापन मंगलवार 25 सितम्बर हो गया। द्वितीय दिवस पर कार्यशाल के समापन अवसर पर उपस्थित सभी लोक सूचना अधिकारियों को संबोधित करते हुए अपर जिलाधिकारी आर0डी0पालीवाल ने कहा कि सूचना अधिकार अधिनियम के अंतर्गत जो भी आवेदनकर्ता संबंधित लोक प्राधिकरणों से सूचना मांगता है और वह सूचना उस कार्यालय में धारित है तो संबंधित लोक सूचना अधिकारी आवेदक को शीघ्र अतिशीघ्र सूचना उपलब्ध करायी जाय अगर मांगी गयी सूचना अधिक पृष्ठों में है तों सर्वप्रथम मांगी गयी सूचना में निर्धारित कुल शुल्क के बारे में आवेदक को शीघ्रतिशीघ्र अवगत कराया जाय जब तक आवेदक द्वारा निर्धारित शुल्क जमा नही किया जाता है तब तक लोक सूचना अधिकारी आवेदक को सूचना देने हेतु बाध्य नही है। उन्होंने कहा कि लोक सूचना अधिकारियों का यह प्रयास होना चहिए कि अधिकतम समय 30 दिन से पूर्व ही आवेदक को मांगी गयी सूचना उपलब्ध करायी जाय। उन्होंने उपस्थित समस्त लोक सूचना अधिकारियों से कहा कि उनके द्वारा इन दो दिवसीय प्रशिक्षण कार्यशाला में सूचना अधिकार अधिनियम के संबंध में जो भी जानकारियां ली गयी है वह अपनी विभिन्न शंकाओं का समाधान किया गया है वह उक्त संबंध में अपने अधिनस्थ लोक सूचना अधिकारियों एवं सहायक लोक सूचना अधिकारियों को भी इसकी जानकारी से अवश्य अवगत कराए।
द्वितीय दिवस पर कार्यशाला में नोडल अधिकारी खंड शिक्षाधिकारी बेरीनाग तरूण पंत एवं मास्टर ट्रेनर प्रशासनिक अधिकारी शिक्षा विभाग राजीव लोचन पाटनी द्वारा सूचना अधिकार अधिनियम के अंतर्गत सूचना प्राप्ति हेतु प्रक्रिया, शुल्क से संबंधित जानकारी, अधिनियम के तहत जो सूचनाएॅ नही दी जा सकती के संबंध में, लोक सूचना अधिकारियों के कार्य एवं दायित्व, राज्य सूचना आयोग की भूमिका, अपीलीय प्रक्रिया, सूचनाओं के अनुरोधों पर दी जाने वाली समुचित कार्यवाही, अनुरोध पत्रों के पंजीकरण की व्यवस्था व उस पर कार्यवाही किये जाने के साथ ही सूचना आयोगों की शक्तियों और कृत व अपील एवं सांस्तीयों के संबंध में विस्तारपूर्वक जानकारी दी गयी।
कार्यशाला में जिला कार्यालय पिथौरागढ़ के मास्टर ट्रेनर/प्रशासनिक अधिकारी प्रवीण सिंह डीनिया ने सूचना अधिकार अधिनियम के अंतर्गत प्राप्त आवेदनों पर दी जीने वाली सूचनाओं व विभिन्न प्रपत्रों के साथ ही लोक सूचना अधिकारियों द्वारा पूछी गयी जानकारी के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी दी गयी।
कार्यशाला में मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 उषा गुंज्याल, मुख्य शिक्षाधिकारी वी0पी0सिमल्टी, अधिशासी अभियंता पेयजल निगम आर0एस0धर्मशक्तू, जिला विकास अधिकारी गोपाल गिरी समेत समस्त खंड विकास अधिकारी व विभिन्न विभागों के लोक सूचना अधिकारी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

उत्तरकाशी : आपदा प्रभावित इलाके में चॉपर की इमरजेंसी लैंडिंग तारों के अवरोधक बनने के कारण हुई,आर्यन कंपनी के दोनों पायलट शुशांत व अजीत सुरक्षित

  संतोष साह / उत्तरकाशी मोरी के आपदा