उत्तरकाशी : आखिर नगर पालिका से खार खाए लोग किस पर भड़ास निकालेंगे ?

उत्तरकाशी : आखिर नगर पालिका से खार खाए लोग किस पर भड़ास निकालेंगे ?

- in article, states, Uttarakhand, Uttarkashi
466
0
@admin
  • संतोष साह / उत्तरकाशी

नगर पालिका से कई लोग खार खाए बेठे हैं जिनमें अधिकांश लोग मतदाता भी हैं। ऐसे अधिकांश लोगो का हमसे पाला पड़ा तो पालिका की आपबीती सुनने को मिली।

पालिका से पीड़ित ज्यादा लोग मस्टरोल वाले मिले। काम किया भुगतान के लिए आज और कल मे बोर्ड का ही कार्यकाल पूरा हो गया और भुगतान नहीं हुआ। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार पालिका मे पिछले पांच साल के करीब डेढ़ करोड़ के भुगतान लटके है।

बताया जा रहा है कि जब पालिका मे प्रशासनिक बॉडी बैठी तो खजाना खाली देख उसने भी हाथ खड़े कर दिये। सवाल ये भी उठ रहे हैं कि जिस पालिका मे करप्शन को लेकर कई मामले सामने आए वहां मस्टरोल का भुगतान का रुकना पीड़ित लोगों के गले नहीं उतर रहा है। कुछ मस्टरोल पीड़ित भूख हड़ताल की भी बात करने की बात कहते नजर आये लेकिन आचार संहिता को लेकर फिलहाल आंदोलन को लेकर अभी किसी फैसले पर भले ही शांत हैं लेकिन पालिका से खार खाए हैं। पालिका के मस्टरोल कार्य की दो कैटेगरी हैं, एक वे लोग हैं जो कागजों में है औऱ एक वे लोग हैं जो मौखिक हैं जो भुगतान की आस मे है।

कुछ लोगों ने काम और भुगतान मिलने के आश्वासन पर अपने पल्ले से भी पैसा लगाया। कुछ लोगों से मौखिक कह कर की काम कर लो भुगतान हो जाएगा ऐसे लोगों की भी फेहरिस्त कम नहीं है। एक विधवा मतदाता जिसके घर मे करीब 6 वोट नगर पालिका की हैं को भी नगर पालिका ने उसके घर के पास पालिका के रास्ते को ठीक करने का पालिका की ओर से मौखिक आदेश मिला था। इस महिला ने अपना पैसा खर्च कर रास्ता तो बना दिया लेकिन महिला को धेला नहीं मिला। इस बीच पालिका का चुनाव नजदीक है। चुनाव से पहले ये लोग पालिका से ही खार खाए बैठे हैं। सवाल ये किस पर भडास निकालेंगे यह कहना मुश्किल है ? इनका वोट किस पर चोट करेगा यह कहना भी मुश्किल है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

शामली जनपद की कमान मृदुभाषी एवं व्यवहार कुशल पुलिस कप्तान अजय कुमार के हाथों में

 कप्तान डा. अजय पाल शर्मा एवं दिनेश कुमार