उत्तरकाशी : 4 जी बताकर उपभोक्ताओं को मूर्ख बना रही हैं मोबाइल कम्पनियां

उत्तरकाशी : 4 जी बताकर उपभोक्ताओं को मूर्ख बना रही हैं मोबाइल कम्पनियां

- in states, Uttarakhand, Uttarkashi, Uttarkashi
259
0
@admin
  • संतोष साह / उत्तरकाशी

जिले में कनेक्टिविटी व मोबाइल नेटवर्क के बुरे हाल है। 4 जी का दावा करने वाली मोबाइल कम्पनियां 4 जी के नाम पर जो सुबिधा व नेट की स्पीड परोस रहे हैं वह सीधे तौर पर उपभोक्ताओं के साथ मजाक बन गया है। वोडाफोन अब गायब है। बताया जा रहा है कि आईडिया के साथ मर्ज हो चुका है। वोडाफ़ोन ने अपने सभी टावर हटा लिये है। हालात ये है कि अब इनकी 4 जी की सुविधा अधिकांश समय 2 जी मे नजर आती है। दरअसल उपभोक्ता हजारों में बना तो दिए है लेकिन जितने टावर होने थे वे नहीं है। अन्य मोबाइल कम्पनियो के भी नेटवर्क देने की सुविधा के मामले मे कमोवेश यही हाल है। बीएसएनएल की स्थिति और खराब है।
इधर 4 जी के नाम पर मोबाइल कंपनियां उपभोक्ताओं से पैसा तो ऐंठ रही हैं लेकिन 4 जी की जो सुबिधा व नेट की स्पीड होनी चाहिए वह नही है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार 4 जी जो असल नेटवर्क की सुविधा होती है वह 10 एमबीपीएस यानि 10 मेगावाट पर सेकंड की स्पीड होती है जो इंटरनेशनल लेबल की मानी जाती है जिसे यहाँ मोबाइल कंपनियां शायद ही दे पाए। बताया जा रहा है कि यहाँ मोबाइल कामपनियाँ 1 एमबीपीएस भी दे दे तो मोबाइल की स्पीड बेहतर चल सकती है। लेकिन यहां हो यह रहा है कि 4 जी के नाम पर पैसा तो ऐंठा जा रहा है लेकिन स्पीड केबीपीएस यानि किलोवाट पर सेकंड की दी जा रही है जो कि उपभोक्ताओं की संख्या अधिक होने के कारण स्लो होने के साथ ही 2 जी में पहुंच जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

उत्तरकाशी : जिले के आल वेदर निर्माण स्थलों में आपातकालीन सूचना के नंबर बोर्ड गायब, नियमों की अनदेखी

संतोष साह / उत्तरकाशी कोई शिकायत न करे