उत्तरकाशी : महाशिवरात्रि पर काशी विश्वनाथ की नगरी में नंगे पैर प्रवेश की परंपरा अब भी विद्यमान

उत्तरकाशी : महाशिवरात्रि पर काशी विश्वनाथ की नगरी में नंगे पैर प्रवेश की परंपरा अब भी विद्यमान

- in article, states, Uttarakhand, Uttarkashi
113
0
@admin
  • संतोष साह

उत्तरकाशी नगरी को पवित्र माना जाता है। काशी विश्वनाथ की नगरी में अब भी कई प्राचीन परंपरा जारी हैं। ख़ासतौर पर शिवरात्रि के दिन शिव की इस नगरी में गंगा पार से प्रवेश करने वाले वे लोग जो प्राचीन परंपरा पर अब भी कायम हैं नंगे पैर प्रवेश करते हैं। झूला पुल में पहुंचते ही जूते,चप्पल उतारकर नंगे पैर पुल पार कर मणिकर्णिका घाट से गंगा जल लेकर विश्वनाथ मंदिर में जलाभिषेक करते हैं। आज शिवरात्रि के अवसर पर इस मान्यता को बरकरार रखने वाले दर्जनों भक्तों के जूते,चप्पल जोशियाड़ा की ओर पुल से पहले ही उतर गए। नंगे पैर काशी में प्रवेश करने के बाद ऐसे भक्तों ने जलाभिषेक किया और शिव बारात में भी शामिल हुए।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

उत्तरकाशी : प्रधानमंत्री मोदी की रविवार 9 बजे की अपील पर आमजन हिस्सेदार बन कोरोना को चुनौती दें : गोपाल

संतोष साह विधायक गोपाल रावत ने रविवार को