उत्तरकाशी : गंगा घाट में नमामि गंगे से बने शौचालय को सिंचाई खंड ने छोड़ा लावारिश, बंद पड़े शौचालय के दरवाजों, दीवारों में भी गंदगी करने से बाज नहीं आ रहे लोग

उत्तरकाशी : गंगा घाट में नमामि गंगे से बने शौचालय को सिंचाई खंड ने छोड़ा लावारिश, बंद पड़े शौचालय के दरवाजों, दीवारों में भी गंदगी करने से बाज नहीं आ रहे लोग

- in Other Updates
86
0
@admin

संतोष साह / उत्तरकाशी

उत्तरकाशी नगर के मणिकर्णिका घाट में नमामि गंगे के पैसे से बने नए शौचालय को बने अभी बमुश्किल दो महीने भी नहीं हुए हैं लेकिन लाखी की लागत से बना नया -नवेला शौचालय बग़ैर इस्तेमाल किये ही बदरंग हो गया है। इस नये शौचालय की दीवारों ,दरवाजों, फर्श,सिंक और यहाँ बिछी टाइल्स को ही लोगों ने गंदगी से दंगीन कर दिया है। गौरतलब है कि मणिकर्णिका घाट का निर्माण नमामि गंगे के तहत हुआ है। घाट के अलावा इसमें शौचालय का भी निर्माण हुआ ताकि घाट में गंदगी न हो साथ ही घाट में आने वाले मुसाफिरों,यात्रियों को भी शौचालय की सुविधा मिल सके।
उल्लेखनीय है कि नमामि गंगे के तहत घाटों के निर्माण का जिम्मा सिंचाई खंड को दिया गया है। सिंचाई खंड घाटों की कार्यदायी संस्था बनी है। इस बीच घाट समेत शौचालय का भी निर्माण हो गया साथ ही पूर्व मे घाट के नवनिर्मित होने पर रिब्बन भी कट गया लेकिन इस सब मे घाट में बने शौचालय को बनाकर उसे लावारिस छोड़ दिया। नगर में सफाई का जिम्मा नगर पालिका के पास है। नगर पालिका के ईओ सुशील कुमार कुरील से जब उक्त शौचालय की खोज खबर लेनी चाही तो उन्होंने बताया कि जिस भी कार्यदायी संस्था ने घाट में शौचालय बनाया है उसके द्वारा पालिका को हस्तांतरित नहीं किया इस वजह से वह लावारिश पड़ा होगा। उन्होंने कहा कि हस्तांतरण की कार्यवाही हुई होती तो शौचालय की सफाई पालिका की जिम्मेदारी बन जाती। उधर कार्यदायी संस्था के अभियंता से संपर्क करना चाहा तो संपर्क नहीं हो पाया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

उत्तरकाशी : गजब एक या दो तीन नहीं,नाल्ड गांव में 135 लोग वोटर लिस्ट से गायब

संतोष साह भटवाड़ी विकास खंड के नाल्ड गांव