हरिद्वार में वनाग्नि पर माॅक अभ्यास

हरिद्वार में वनाग्नि पर माॅक अभ्यास

- in Other Updates, states, Uttarakhand, Uttarkashi
85
0
@admin
  • हरिद्वार / सनसनी सुराग
गुरूवार को जनपद हरिद्वार में वनाग्नि पर माॅक अभ्यास किया गया । वाॅयरलेस के माध्यम से आपदा कंट्रोल रूम को प्राप्त सूचना अनुसार जनपद हरिद्वार में मंशा देवी मंदिर क्षेत्र के आस-पास के जंगलों में आग लगने की सूचना प्राप्त हुई। जिलाधिकारी एस.ए. मुरूगेशन ने कन्ट्रोल रूम में पहंुचकर कमान स्वयं संभाली। आपदा कन्ट्रोल रूम को वाॅयरलेस के माध्यम से सूचना प्राप्त हुई कि मंशा देवी दवी मन्दिर के आसपास के क्षेत्र के जंगल में लगी आग पर टीम द्वारा काबू पा लिया गया है। आग बुझाने की कार्यवाही में पी.ए.सी के दो जवान जयदीप एवं सतेन्द्र के घायल होने की सूचना प्राप्त हुई है। जिन्हें उपचार हेतु एम्बुलेंस के माध्यम से जी.डी. अस्पताल हरिद्वार भेजा गया।
मंशा देवी क्षेत्र में लगी आग को बुझाने हेतु तहसीलदार हरिद्वार के नेतृत्व में उप प्रभागीय वनाधिकारी, 31 पी.ए.सी. के जवान, 17 वन कर्मी, 18 पुलिस कर्मी, फायर ब्रिगेड से 13 कर्मी, पी.आर.डी. से 22 जवान एवं 10 होमगार्ड जवानों की टीम एवं पशु चिकित्साधिकारी की टीम द्वारा कार्यवाही में सहयोग किया गया। कार्यवाही के दौरान एक एम्बुलेंस का भी उपयोग किया गया। आर.टी.ओ. कार्यालय के समीप जंगलों में लगी आग पर टीम द्वारा काबू पा लिया गया है। उप जिलाधिकारी सदर के नेतृत्व में उप प्रभागीय वनाधिकारी , फायर ब्रिगेड, सिडकुल के 10 जवान, 20 वन कर्मी, 25 पुलिस कर्मी पी.आर.डी. एवं होमगार्ड के दस-दस जवानों की टीम द्वारा फायर, रैकर्स पाठल, फायर बिटर, वुडकटर, फावड़ा, गेंती, बेलचा, पानी के टेंकर आदि उपकरणों के सहयोग से कार्य किया।
श्यामपुर रेंज में वाॅयरलेस के माध्यम से आपदा कंट्रोल रूम को चण्डी देवी मन्दिर के गौरी शंकर डंपिंग एरिया के पीछे आग लगने की सूचना प्राप्त हुई। आपदा कन्ट्रोल रूम से वन विभाग एवं सिटी कन्ट्रोल रूम, अग्निशमन विभाग को तहसील एवं थाने को सूचित किया गया।  आग को मौके पर पहुंची टीम द्वारा पूर्णतः बुझाा दिया गया। आग से जान-माल को कोई नुकसान नहीं हुआ तथा आग बुझाने की कार्यवाही में किसी के घायल होने की सूचना नहीं है। आग को बुझाने हेतु नायब तहसीलदार हरिद्वार के नेतृत्व में रेंज अधिकारी, थानाध्यक्ष श्यामपुर, अग्निशमन अधिकारी हरिद्वार खण्ड विकास अधिकारी बहादराबाद 15 वन कर्मी, 10 पुलिस कर्मी, पी.आर.डी. के दस एवं होमगार्ड के आठ जवानों की टीम द्वारा विभिन्न उपकरणों से आग बुझाने की कार्यवाही की गई। टीम द्वारा कार्यवाही उपरान्त मेला नियंत्रण कक्ष स्थित स्टेजिंग एरिया पर रिपोर्टिंग की गई।
वनाग्नि को रोकने के लिए मंशा देवी में तहसीलदार हरिद्वार, गौरीशंकर में बी.डी.ओ. बहादरबाद एवं रोशनाबाद में एस.डी.एम. हरिद्वार के नेतृत्व में तीन टास्क फोर्स बनाए गये। इसके उपरान्त कलक्ट्रेट रोशनाबाद में समीक्षा भी की गई। घटना की कार्यवाही में जिला प्रशासन, पुलिस, आर्मी, एस. डी.आर.एफ., एन.डी.आर.एफ., स्वास्थ्य, विद्युत अग्निशमन विभाग होमगार्ड, पी.आर.डी. आदि विभागों के अधिकारियों एवं कर्मचारियों द्वारा सहयोग किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

उत्तरकाशी : धूम-धाम से मनाई श्रीदेव सुमन की पुण्य तिथि

उत्तरकाशी / सनसनी सुराग  जिला मुख्यालय सहित जनपद