दीनी तालीम के साथ दुनियावी तालीम भी बेहद ज़रूरी : मौलाना महमूद मदनी

दीनी तालीम के साथ दुनियावी तालीम भी बेहद ज़रूरी : मौलाना महमूद मदनी

- in article, states, Uttar Pradesh
121
0
@admin
  • लावड़(मेरठ) / मौ० रविश

देर शाम क़स्बे के नजदीकी गांव खरदोनी में इस्लामी जगत की कई नामी गिरामी शख्सियतों की आमद ने माहौल को रूहानी कर दिया।

मेरठ निवासी मरहूम मौलाना मुफ़्ती फारूक की याद में आयोजित इस्लाहे मुआशरा कॉन्फ्रेंस में उमड़ी हज़ारो की भीड़ के बीच उलेमा ए दीन के बयानात ने लोगो मे दीन के जज़्बे को ताज़ा कर दिया। क़ुरान ए करीम की तिलावत के साथ प्रोग्राम की शुरुआत हुई।

पूर्व राज्यसभा सांसद व जमीयत उलेमा ए हिन्द के राष्ट्रीय महासचिव मौलाना महमूद मदनी ने फरमाया कि इंसान की ज़िंदगी मे तालीम बेहद ज़रूरी है। उन्होंने कहा कि हमे दीनी तालीम के साथ साथ दुनियावी तालीम हासिल करने पर भी ध्यान देना चाहिए। मौलाना महमूद मदनी ने कहा कि अपने बच्चों को पढा लिखाकर मुल्कों मिल्लत की खिदमत के लिये तैयार करें। उन्होंने मुस्लिम समाज के लोगो से अपील करते हुए कहा कि हमे क़ुरान व सुन्नत के मुताबिक ज़िंदगी गुज़ारनी चाहिए।

जमीयत उलेमा ए हिन्द के राष्ट्रीय अध्यक्ष मौलाना उस्मान ने भी क़ुरानो हदीस की रोशनी में बयान फरमाया। इसके अलावा बीच बीच मे नातख़्वानी का दौर चलता रहा। इसके अलावा मौलाना अब्बास, मौलाना सलमान सहित कई आलिमो ने ने भी बयान किया। देर रात जमीयत उलेमा ए हिन्द के सदर मौलाना उस्मान द्वारा दुआ कराई गयी। मौलाना ज़ुल्फ़िकार, मौलाना सुलेमान व मौलाना सरफ़राज़ की सरपरस्ती में कॉन्फ्रेस अपने अंजाम को पहुंची। इस दौरान सनव्वर खरदोनी, बाबर चौहान, फुरकान इस्लाम, मल्लू प्रधान, नबी हसन, फुरकान, आरिफ फैज़ी, हाजी जावेद, हाफ़िज़ इब्राहिम, हाफ़िज़ तहसीन, कारी ओसामा, सहित बड़ी संख्या में लोग मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

उत्तरकाशी : तीन राज्यों में जीत के बाद कांग्रेसियों में ख़ुशी की लहर

उत्तरकाशी राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ में सम्पन्न हुए