उत्तरकाशी : अपने लेटर को लेटर बॉक्स में डालने से पहले लेटर बॉक्स की तह में जरूर जायें

उत्तरकाशी : अपने लेटर को लेटर बॉक्स में डालने से पहले लेटर बॉक्स की तह में जरूर जायें

- in article, states, Uttarakhand, Uttarkashi
161
0
@admin
  • संतोष साह

इंटरनेट,सोशल मीडिया, मोबाइल के दौर में भले ही डाक सेवाओं पर असर पड़ा हो मगर तब भी चिठी-पत्री बंद नहीं हुई है। पोस्ट आफिस को छोड़ दें तो नगर, कस्बों व गांव में इलाके के हिसाब से लगे लेटर बॉक्स में चिठियों की आमद अब भी बरकरार है। लेकिन गारंटी नही की आप का लेटर सही सलामत बॉक्स में पड़ने के बाद गंतव्य तक पहुंच रहा होगा। वह इसलिए कि डाक विभाग के लेटर बॉक्स तो लगे हैं लेकिन इनके रखरखाव की उसे सुध नहीं है।

लेटर बॉक्स में ताला लगा होता है। डाक एकत्र करने वाला ताला खोलकर डाक ले जाता है। लेकिन पता चला है कि वर्तमान में नगर उत्तरकाशी में जितने भी लेटर बॉक्स लगे हैं वे बगैर लॉक के हैं। पत्र भेजने वाला इन लेटर बॉक्स में पत्र दो डाल रहा है लेकिन पत्र हालात देखकर नहीं लगता कि गंतव्य तक पहुंचा है भी कि नहीं। एक नमूना उत्तरकाशी के हनुमान चौक में श्रीदेव सुमन की प्रतिमा के नजदीक का ही देख लें।

बताया जा रहा है कि यहां लगे लेटर बॉक्स में ताला नही है। पानी की टंकी के ऊपर लेटर बॉक्स लटकाया गया है। बॉक्स के अंदर लेटर पड़े हैं और झांक रहे हैं । न जाने किनके लेटर होंगे और कहाँ उन्हें जाना होगा। पत्र भेजने वाले ने तो पत्र भेज दिया लेकिन पत्र मिला कि नहीं यह हकीकत लेटर बॉक्स बता रहा है।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

उत्तरकाशी : उत्तरकाशी जिला स्थापना दिवस पर बोले सीएम 2022 तक सभी पुल व हर गांव सडक से जुड़ा होगा

संतोष साह प्रदेश के मुख्यमंत्री आज उत्तरकाशी जिले