कांवड यात्रा को लेकर कौन से दो राज्यों के बीच हुआ अहम फैसला? कहाँ हुई यह महत्वपूर्व बैठक? डीएम व एसपी सहित किस किस पुलिस प्रशासनिक अधिकारियों ने लिया बैठक में भाग?

कांवड यात्रा को लेकर कौन से दो राज्यों के बीच हुआ अहम फैसला? कहाँ हुई यह महत्वपूर्व बैठक? डीएम व एसपी सहित किस किस पुलिस प्रशासनिक अधिकारियों ने लिया बैठक में भाग?

- in Other Updates
187
0

पंकज वालिया / जनपद शामली

शामली( सनसनी सुराग न्यूज़) देश में कोरोना संक्रमण का प्रकोप बने रहने के चलते इस बार कांवड यात्रा पर भी संकट के बादल छा गए है। सावन माह के शुरू होने पर हरियाणा से आने वाले कांवडियों के आगमन को रोकने के लिए सोमवार को यूपी व हरियाणा के अधिकारियों की बैठक में कांवड यात्रा को पूरी तरह स्थगित करने का निर्णय लिया गया है। इस दौरान शामली डीएम व एसपी विनीत जायसवाल ने हरियाणा के अधिकारियों से मिलकर कांवड यात्रा को लेकर चर्चा की।
जानकारी के अनुसार सावन माह का सोमवार से शुभारंभ हो गया है। इस माह में लाखों लोग हरिद्वार से कांवड में पवित्र गंगाजल लेकर अपने-अपने शिवालयों में भगवान का जलाभिषेक करते हैं लेकिन इस बार देश में कोरोना महामारी का प्रकोप बना हुआ है जिसके चलते कांवड यात्रा पर भी संकट के बादल छा गए हैं।

कावड़ यात्रा के मद्देनजर हरियाणा के पानीपत उत्तर प्रदेश के शामली जनपद के पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों के बीच बैठक हुई। जिलाधिकारी शामली जगजीत कौर की बाइट👆👆

 

इसी के संबंध में सोमवार को हरियाणा के पानीपत में यूपी व हरियाणा के अधिकारियों की मीटिंग हुई जिसमें शामली से डीएम जसजीत कौर व एसपी विनीत जायसवाल ने भाग लिया वहीं हरियाणा की ओर से पानीपत के डीसी धर्मेन्द्र सिंह, एसपी पानीपत मनीषा चैधरी, एसडीएम पानीपत, सीओ समालखा, एसडीएम कैराना, सीओ कैराना, थानाध्यक्ष कैराना व थानाध्यक्ष सिनौली तथा अन्य अधिकारियो ने भाग लिया। बैठक में दोनों जिलों के अधिकारियों ने कांवड यात्रा स्थगित किए जाने के संबंध में जानकारी पुष्ट की तथा हरियाणा से कांवड यात्रा पर आने वाले श्रद्धालुओं को इस संबंध में अवगत कराने की जानकारी भी साझा की।

जिलाधिकारी जसजीत कौर ने बताया कि दोनों जिलों के अधिकारियों में सहमति हुई कि यमुना ब्रिज बार्डर पर दोनों जनपदों की संयुक्त टीमें बैरियर, बैरिकेडिंग लगाकर ऐसे लोगों की सघन चेकिंग करेगी जो जानकारी होने के बावजूद भी कांवड लाने का प्रयास कर सकते है, ऐसे लोगों को तुरंत वापस भेज दिया जाएगा। क्योंकि हमारी तरह ही हरियाणा व उत्तराखण्ड सरकार ने भी स्पष्ट आदेश दिए गए है और गम्भीरता से मॉनिटरिंग भी की जा रही है।

इसीके साथ
पुलिस अधीक्षक विनीत जायसवाल ने कहा कि पानीपत की सीमा से लगने वाले यमुना ब्रिज बार्डर पर शामली पुलिस चेकिंग के लिए तैनात कर दी। दोनों जनपदों की संयुक्त टीमें बैरियर, बैरिकेडिंग लगाकर ऐसे लोगों की सघन चेकिंग करेगी जो जानकारी होने के बावजूद भी कांवड लाने का प्रयास कर सकते है, ऐसे लोगों को तुरंत वापस भेज दिया जाएगा। क्योंकि हमारी तरह ही हरियाणा व उत्तराखण्ड सरकार ने भी स्पष्ट आदेश दिए गए है और गम्भीरता से मॉनिटरिंग भी की जा रही है। इसके अलावा डीजे, साउंड सिस्टम संचालकों एवं ट्रैवल एजेंसी तथा कांवड कमेटियों को नोटिस भेजकर बंद पत्र लिए जाने पर भी सहमति हुई कि वे अपने स्तर से कांवड यात्रा के लिए कोई संसाधन उपलब्ध नहीं कराएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

रूपेश कुमार को मिला जनपद के पिछड़ा वर्ग समाज का प्रतिनिधित्व, भाजपा कार्यकर्ताओं में हर्ष की लहर, मुबारकबाद देने वालों का उनके आवास पर लगा तांता

जितेंद्र चौहान कांधला जनपद शामली कांधला। कैबिनेट मंत्री