कैराना यमुना ब्रिज स्तिथ मंदिर के निकट, दिनेश चंद गुप्ता उपाध्यक्ष उ0प्र0 पेट्रोलियम ट्रेडर्स एसोसिएशन के सौजन्य से हुआ पौधारोपण, मुख्य अतिथि रहे ज्वाइंट मजिस्ट्रेट अमित पाल शर्मा

कैराना यमुना ब्रिज स्तिथ मंदिर के निकट, दिनेश चंद गुप्ता उपाध्यक्ष उ0प्र0 पेट्रोलियम ट्रेडर्स एसोसिएशन के सौजन्य से हुआ पौधारोपण, मुख्य अतिथि रहे ज्वाइंट मजिस्ट्रेट अमित पाल शर्मा

- in Shamli, states, Uttar Pradesh
567
0

सनसनी सुराग न्यूज
विशाल भटनागर/डॉ0 रणवीर सिंह वर्मा
कैराना जनपद शामली

कैराना। केंद्र सरकार के आदेश द्वारा पंचवटी श्रेणी अभियान के तहत उत्तर प्रदेश हरियाणा सीमा पर स्थित यमुना नदी घाट पर मंदिर के निकट 39 पौधारोपण किया गया। जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में ज्वाइंट मजिस्ट्रेट/उपजिलाधिकारी शामिल रहे।

इस बार के पौधारोपण अभियान में शासन द्वारा पंचवटी श्रेणी के पौधों की प्रजातियों पर सर्वाधिक जोर दिया जा रहा है। वही केंद्र सरकार व राज्य सरकार इस अभियान को प्रमुखता से चला रही है। कावड़ यात्रा को और सुंदर बनाने हेतु यमुना ब्रिज स्थित मंदिर के निकट 39 पौधारोपण किया गया।
बताते चलें कि कांधला के
दिनेश चंद गुप्ता (उपाध्यक्ष उ0प्र0 पेट्रोलियम ट्रेडर्स एसोसिएशन लखनऊ, उपाध्यक्ष अखिल भारतीय अग्रवाल सम्मेलन, अध्यक्ष शामली पेट्रोलियम एसोसिएशन)
व उनके पुत्र रोहित गुप्ता (रुद्र ऑटोमोबाइल देहली रोड़ कांधला)के सौजन्य से यमुना नदी स्थित घाट पर 39 पौधारोपण किया गया। इसके अलावा महिलाओं के लिए चेंजिंग रूम भी बनाए गए हैं। इसी कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में पहुंचे ज्वाइंट मजिस्ट्रेट/उपजिलाधिकारी डॉ अमित पाल शर्मा ने पौधारोपण कार्यक्रम में भाग लिया,जिसमें उन्होंने कहा है कि ज्यादा से ज्यादा संख्या में पौधारोपण करे। इसी के बाद यमुना नदी स्थित मंदिर में महाआरती का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में तहसीलदार कैराना रणवीर सिंह,बी डी आे कृष्ण गोपाल चौधरी,एडीआे धर्मवीर सिंह आदि मौजूद रहे।

 

कांधला के सामाजिक कार्यकर्ता और व्यापारी श्री जिया लाल गर्ग भी इस अवसर उपस्थित रहे।

गौरतलब रहे कि पिछले दिनों प्रमुख सचिव उत्तर प्रदेश अनुराग श्रीवास्तव द्वारा सभी जिलाधिकारियो को निर्देश जारी कर दिए गये हैं। निर्देशों के मुताबिक केवल देशी प्रजातियों के पौधों का रोपण किया जाएगा।

कैराना। पानीपत खटीमा राजमार्ग यमुना ब्रिज पर अलग अलग प्रजातियों के पौधों को लगाया गया है।

  • यह लगाये गये पाैधे

25 अशोक के पौधे
4 बरगद के पाैधे
4 बैल के पाैधे
2 आवला के पाैधे
4 पीपल के पाैधे लगाए गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

बड़े बे आबरू होकर तेरे कूचे से हम निकले……… उत्तरकुंजी विवाद-अध्यापक भर्ती काउंसलिंग निरस्त उच्च न्यायालय द्वारा अग्रिम आदेशों तक भर्ती रोकने का दिया आदेश

  @nazimrana चौसाना शामली। बुद्धवार 2जून2020 69000 सहायक