झिंझाना में साप्ताहिक बन्दी बिल्कुल बेअसर, पिछले कई माह से श्रम निरीक्षक लापरवाह बने है या फिर कोई सैटिंग

झिंझाना में साप्ताहिक बन्दी बिल्कुल बेअसर, पिछले कई माह से श्रम निरीक्षक लापरवाह बने है या फिर कोई सैटिंग

- in Other Updates
24
0

तस्लीम आलम

झिंझाना 2 दिसम्बर : झिंझाना मे सोमवार का दिन साप्ताहिक अवकाश के लिए घोषित है। पिछले करीब 8-10 माह से श्रम निरीक्षिका के न आने से सोमवार के दिन अधिकांश बाजार गुलजार रहता है । काफी दुकानदार बिना किसी डर के अपने – अपने प्रतिष्ठानों को खोलते है । केवल सुनारो की दुकाने ही बन्द रहती है। देखने व सुनने मे आया है कि श्रम निरीक्षक या तो इधर से बिल्कुल बेफिक्र है या फिर व्यापारियों के साथ कोई सैटिंग हो चुकी है जिस वजह से साप्ताहिक छुट्टी के दिन पूरा बाजार गुलजार रहता है ।
मिली जानकारी के अनुसार शामली
जिलाधिकारी के आदेश अनुसार झिंझाना मे साप्ताहिक अवकाश के लिए सोमवार का‌ दिन निश्चित किया हुआ है । मगर दुकानें खुली रखकर व्यापारियों द्वारा जिलाधिकारी के आदेशों की खुलेआम धज्जियां उडाई जा रही है।‌
साप्ताहिक बंदी को लेकर जिलाधिकारी ने भी आदेश दिए थे कि झिंझाना में सोमवार को अवकाश रहेगा । सोमवार को कोई भी दुकान खुलने पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी । पहले श्रम निरीक्षक श्रीमति मधुप्रभा लगभग प्रत्येक सप्ताह सोमवार के दिन झिंझाना के बाजार मे आया करती थी । और अपनी गाडी मे बैठकर ही मोबाइल पर वीडियो ग्राफी किया करती थी । और चालानी प्रक्रिया करती थी । मगर यह कार्यशैली अधिकारियों के मन नही भाई थी ।‌

अब कई माह से श्रम निरीक्षक मधुप्रभा जी के न आने से बाजार वासी बेखबौफ हो चुके है या फिर उनके व व्यापारियों के बीच कोई सैटिंग हो चुकी है । मगर ये तो पता नही मगर बाजार सोमवार के दिन भी बाजार बेफिक्री के साथ गुलजार रहता है । इस समबन्ध मे एसडीएम ऊन गौरव सेगरवाल से फोन पर सम्पर्क कर उनका पक्ष जानना चाहा तो फोन रिसीव नही हो पाया ।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

किसानों की फसलों के दाम न बढाये जाने के विरोध मे करनाल हाईवे दो घंटे जाम

तसलीम आलम झिंझाना 11 दिसम्बर : प्रदेश सरकार