हरिद्वार : आगामी कांवड़ मेला की तैयारियां शुरू, अधिकारियों को दिए निर्देश

हरिद्वार : आगामी कांवड़ मेला की तैयारियां शुरू, अधिकारियों को दिए निर्देश

- in haridwar
57
0

18 मई, 2018

हरिद्वार / सनसनी सुराग
जिलाधिकारी दीपक ने आगामी कांवड़ मेला की तैयारियों को लेकर समीक्षा बैठक कलक्ट्रेट सभागार में ली। उनके साथ वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कृष्ण कुमार वीके, ज्वाइंट मजिस्ट्रेट रूड़की नीतिका खण्डेलवाल, एसपी सिटी ममता वोहरा सहित अनेक विभागीय अधिकारी बैठक में मौजूद रहे।

जिलाधिकारी ने जुलाई माह से शुरू होने वाले कांवड़ मेले की व्यवस्थाओं दुरस्त किये जाने के मद्देनजर अधिकारियों को निर्देश दिये। साथ ही एसएसपी की उपस्थिति में पुलिस प्रशासन हेतु जरूरी आवश्यकताओं का एस्टीमेट तैयार कर उपलब्ध कराये जाने की बात कही। उन्होंने कहा कि कांवड़ पटरी के मरम्मत व सुव्यवस्थित किये जाने हेतु सिंचाई विभाग हरिद्वार और रूड़की प्रखण्ड शीघ्र निरीक्षण कर एस्टीमेट प्रस्तुत करें।

कांवड़ पटरी सहित पूरे मेला क्षेत्र में सभी स्थानों पर बिजली, पेयजल, टाइल्स आदि की व्यवस्था के लिए बजट आंवटन हेतु एस्टीमेट बनाकर तैयार करें ताकि शासन को अवगत कराया जा सके। सिंचाई, पेयजल, विद्युत विभाग इन कार्यो को समय रहते निरीक्षण कर रिपार्ट दें। एनएचआई अधिकारियों के साथ मेले को लेकर अलग से बैठक बुलाई जायेगी।

वन और लोक निर्माण विभाग हिल बाईपास को केवल कुम्भ और सोमवती अमावास्य के लिए न समझें बल्कि हरिद्वार में होने वाले किसी भी पर्व मेला स्नान की स्थिति में हिल बाईपास को प्रयोग किया जा सके इसके लिए तैयार रखे। इसके सुरक्षा इंतजाम और मरम्मत कार्यो को नियमित किया जाये। इस बार शासन से हिलबाई पास को कांवड़ मेला के दौरान प्रयोग किये जाने की अनुमति हेतु शासन से वार्ता की जायेगी। उन्होंने रोडवेज व यातायात विभाग को शहर के मौजूदा मार्गो की स्थिति के अनुरूप प्लान बनाने के निर्देश दिये। जाम से बचाने के लिए अभी से रणनीति बनाने को कहा।

एसएसपी ने कहा कि बैरागी कैम्प पार्किंग, सुरक्षा, सफाई व्यवस्था को सैक्टर में बांट कर सुनियोजित किया जाये। यदि ठेकेदार इस तरह कार्य करने में सफल नहीं तो बैरागी कैम्प की सभी व्यवस्थायें पुलिस प्रशासन के सुपुर्द कर दी जायें। गौरी शंकर, सर्वानन्द घाट से लेकर जयराम आश्रम तक पूर्ण प्रकाश व्यवस्था की जाये।

जिलाधिकारी ने कहा कि बैठक में दिये निर्देशों के बाद धरातल पर कार्य जांचने के लिए एक माह का समय दिया जाता है। अगले माह की 18 तारीख को किया जायेगा भौतिक निरीक्षण।

बैठक में अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व डाॅ0 ललित नारायण मिश्र, ज्वाइंट मजिस्ट्रेट रूडकी, एमएनए रूडकी अशोक पांडेय, जल संस्थान एवं पीडब्ल्यूडी सहित विभिन्न विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

उत्तरकाशी: बडकोट वन विभाग के गेस्ट हाउस के नजदीक जंगल में मिला युवक का शव।

वीरेंद्र सिंह /सनसनी सुराग -ख़बर बड़कोट से है