उत्तरकाशी : स्ट्रिक्टली बैन के बावजूद गंगोत्री नेशनल पार्क के ट्रेक में प्लास्टिक,पॉलिथीन

उत्तरकाशी : स्ट्रिक्टली बैन के बावजूद गंगोत्री नेशनल पार्क के ट्रेक में प्लास्टिक,पॉलिथीन

- in article, states, Uttarakhand, Uttarkashi
90
0
@admin
  • संतोष साह / उत्तरकाशी

गंगोत्री समेत गंगोत्री से आगे गौमुख व गंगोत्री हिमालय में प्लास्टिक,पॉलीथीन पर कठोरता के साथ प्रतिबंध होने के बावजूद वहां इसका पहुंचना गंगोत्री नेशनल पार्क की भूमिका व ड्यूटी पर सवाल खड़े करता है। गंगोत्री से आगे बढ़ने के लिये गंगोत्री नेशनल पार्क के कनखू बेरियर जहां से अनुमति मिलती है वहाँ से प्लास्टिक,पॉलिथीन का आगे बढ़ जाना वन विभाग की अनदेखी व लापरवाही भी उजागर करता है।

गौरतलब है कि गंगोत्री से आगे गौमुख ट्रेक में वगैर परमिट के आवाजाही नही हो सकती। इसके लिये परमिट वन विभाग जारी करता है। एक दिन में गंगोत्री से सिर्फ 150 लोगों को ही परमिट जारी होते हैं और शुल्क भी पड़ता है। गौमुख जाने वाले यात्री, पर्यटक व ट्रेकर अपने साथ क्या कुछ समान ले जा रहा ह इसकी पड़ताल करने की ड्यूटी बैरियर में तैनात वें कर्मियों की बनती है मगर जिस तरह से गंगोत्री,गौमुख ट्रेक में गंदगी मिली है उससे साफ होता है कि गंगोत्री नेशनल पार्क के जिम्मेदार अधिकारी व कर्मियों को इससे कोई वास्ता नही और सिर्फ ड्यूटी बजाने से वास्ता है।

गौरतलब है कि कल 10 सितंबर को जिले के डीएम डॉ आशीष चौहान के निर्देश पर गंगोत्री,गौमुख ट्रेक मे सफाई अभियान चल। इस सफाई अभियान में 5 कुंतल गंदगी का आना हाई एल्टीट्यूड के लिये किसी भी दशा में अच्छी खबर नही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

उत्तरकाशी : काशी-बनारस का मणिकर्णिका हो या फिर उत्तरकाशी का,महत्व व फल एक ही

संतोष साह उत्तरकाशी और काशी बनारस में मणिकर्णिका