उत्तरकाशी : डबल इंजन का असर गंगोत्री विधानसभा में पड़ने की संभावना

उत्तरकाशी : डबल इंजन का असर गंगोत्री विधानसभा में पड़ने की संभावना

- in article, states, Uttarakhand, Uttarkashi
284
0
@admin
  • संतोष साह / उत्तरकाशी

इस बार लोकसभा चुनाव में पार्टी प्रत्याशी की गंगोत्री विधानसभा में गोपाल ने राह आसान करने की पहले ही तैयारी कर दी है। प्रत्याशी के पास विधानसभा में डबल इंजन को भुनाने के लिये बहुत कुछ कहने को होगा तो वहीं अबकी बार गोपाल को विपक्ष सम्भवतः पचा भी नहीं पा रहा है। लोकसभा चुनाव की अधिसूचना जारी होने से पहले जिस तरह से गंगोत्री विधानसभा में एक के बाद एक जनहित के कई कार्य धरातल पर उतरे उस पर अबकी बार जनता ने भी जरूर मुहर लगाई है।

चर्चा इस बात की भी है कि डबल इंजन लगा है। दरअसल पिछले डेढ वर्ष में विधायक ने जिन कार्यो के लिये प्रयास व वादा किया उन्हें धरातल पर जरूर उतारा। जनहित के फैसले में उन्हें नाराजगी भी झेलनी पड़ी तो उन्होंने राजनीतिक स्वार्थ नहीं देखा। अब राजनीतिक गलियारों में चर्चा है कि इसका लाभ कही न कही भाजपा प्रत्याशी को मिल सकता है।

इधर लोकसभा चुनाव को देख अब आरोप लगाने का सिलसिला भी शुरू हो गया है। दो दिन पूर्व प्रमुख विपक्षी दल कांग्रेस के नेताओं ने अपने संभावित पार्टी प्रत्याशी की नब्ज टटोलने को लेकर बुलाई बैठक में गंगोत्री विधानसभा में सिर्फ विधायक गोपाल को ही टारगेट किया। विकास से हटकर उन पर करप्शन के आरोप लगाये थे। आरोप कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष व गंगोत्री के पूर्व विधायक की ओर से लगाये गए थे। करप्शन के इन आरोपों को लेकर जब विधायक गोपाल से जानना चाहा तो उन्होंने कहा कि सरकार में पारदर्शिता से कार्य हो रहा है। ई टेंडरिंग से भाजपा ही नही कांग्रेस के लोग भी कम कर रहे हैं जबकि कांग्रेस सरकार में ऐसा नही था और चहेतों को ही काम मिलते थे। विधायक ने साफ कहा कि जो उन पर आरोप लगाए हैं उसे सिद्ध कर बताये। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि आरोप लगाने वालों का भ्रष्टाचार से क्या नाता रहा यह में ही नही जनता भी जानती है।
उधर खबर यह भी है कि विधानसभा चुनाव के दौरान बागी हुए कुछ भाजपाई जिनकी एंट्री नहीं हो पाई इस बार लोकसभा चुनाव में कथा वाचक गोपालमणि के प्रचार करने वाले हैं क्योंकि गोपाल मणि निर्दलीय चुनाव लड़ने की घोषणा कर चुके हैं।
इस बीच टिहरी संसदीय सीट से भाजपा को छोड़ कांग्रेस में कौन पार्टी प्रत्याशी होगा इस पर फिलहाल नब्ज टटोली जा रही है अलबत्ता भाजपा में टिकट किसे मिलेगा वह लगभग फाइनल है। टिकट महारानी या फिर बहुगुणा में से किसी एक को मिलना तय है। इन नामों की चर्चा बहुत पहले से हो रही है। सूत्रों की माने तो महारानी का पलड़ा भारी बताया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

उत्तरकाशी : प्रतिकर न मिलने से नाराज ग्रामीणों ने जुणगा, तराकोट मार्ग में लगाया अवरोध, लोनिवि के खिलाफ गुस्सा

संतोष साह / उत्तरकाशी चिन्यालीसौड़ के उक्त मोटर