दिल्ली: ब्रेन हेमरेज को मात देकर घर लौटी राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग की सदस्य- मा.डा. स्वराज विद्वान।

दिल्ली: ब्रेन हेमरेज को मात देकर घर लौटी राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग की सदस्य- मा.डा. स्वराज विद्वान।

- in delhi
463
0

वीरेंद्र सिंह/दिल्ली

दिल्ली एम्स में ब्रेन हेमरेज को मात देकर स्वस्थ होकर षनिवार को घर लौटी राश्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग की सदस्य मा.डा. स्वराज विद्वान।

डा. विद्वान के षीघ्र स्वस्थ्य होने के लिए देष व प्रदेष भर में मंदिरों, मजिस्द, चर्च, गुरूद्वारों में देषवासियों की ओर से दुआ मांगी गई थी। राश्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग की सदस्य मा. डा. स्वराज विद्वान ने कहा कि डाक्टरों एवं देषवासियों की दुवाओं से मुझे नया जीवन मिला है। दुःखद घड़ी में देषवासियों के इस अलौकिक प्रेम से ही आज मैं आपके बीच में हूं। उन्होंने सभी देषवासियों का तह दिल से हार्दिक धन्यवाद ज्ञापित किया।

गौरतलब है कि राश्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग की सदस्य सुश्री विद्वान उत्तराखण्ड के जनपद उत्तरकाषी में षासकीय भ्रमण कार्यक्रम में थी। 31 मई 2018 को तहसील बड़कोट में जनता की समस्या को सुनने के बाद जनता को सम्बोधित करते-करते उनके सिर में तेज दर्द हुआ जिसके चलते उन्हें तत्काल वहां उपस्थित अधिकारियों एवं जनप्रतिनिधियों के द्वारा राजकीय अस्पताल बड़कोट पंहुचाया गया। जहां उन्हें प्राथमिक उपचार के बाद मैक्स अस्पताल देहरादून के लिए रैफर किया गया। जहां राज्य सरकार एवं ओएनजीसी की प्रीती पंत के नेतृत्व में उनकी पूरी टीम ने तत्काल ईलाज के लिए सीनियर डाक्टरों से बात की। मैक्स अस्पताल देहरादून में जांच करने के बाद पता चला कि मा. सदस्या को ब्रेन हेमरेज हुआ है। आईसीयू में भर्ती करने के बाद अगले दिन 1 जून को प्रातः डाक्टरों की टीम ने हायर सेंटर एम्स दिल्ली के लिए रैफर किया। राज्य सरकार ने तत्काल कार्यवाही करते हुए आपातकालीन सेवा से मा. सदस्या को दिल्ली पंहुचाया। डा. विद्वान ने अपने गृह राज्य के मा. मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत, वित्त एवं पेयजल मंत्री प्रकाष पंत, प्रदेष अध्यक्ष भाजपा अजय भट्ट, मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह, अपर सचिव डा. रणवीर सिह, डीजीपी अनिल रतूड़ी का हार्दिक दिल से आभार प्रकट किया।

दिल्ली एम्स में 1 जून से 10 जुलाई तक राश्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग की सदस्य मा. डा. विद्वान का ब्रेन हेमरेज का सफल ईलाज एच.ओ.डी.डा.श्री काले एवं डा. कामेष्वर प्रसाद की देख-रेख में हुआ। 10 जुलाई को डाक्टरों की टीम के द्वारा सुश्री विद्वान के ब्रेन हेमरेज की अंतिम जांच की गई जिसमें वे स्वस्थ पायी गई। जांच के उपरान्त डाक्टरों ने उन्हें एम्स से छुट्टी दी।

दिल्ली एम्स में भर्ती डा. स्वराज विद्वान को मिलने उनके गृह राज्य सहित उत्तरप्रदेष, हिमाचल, महाराश्ट्र, गुजरात, राजस्थान, जम्बू कष्मीर,हरियाणा,पंजाब आदि राज्यो के नागरिक उनसे मिलने आए थे।

एम्स मेडिकल की टीम के द्वारा बताया गया कि ब्रेन हेमरेज के बहुत कम केस ऐसे होते हैं जो षीघ्र स्वस्थ्य हो जाते है। मा. सदस्य के साथ देष की दुआ व दवा दोनों ने काम किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

सरकार ने लिया बड़ा फैसला, टिक टोक सहित 59 चाइनीज एप्प बैन।

सुनील वर्मा/ब्यूरो रिपोर्ट भारत-चीन सीमा पर चल रही