कोरोना को निमंत्रणः बाजारों में उमडा सैलाब , सुबह 9 बजे खुली सभी दुकानें, गाइडलाइन की उड़ी धज्जियां , चौराहों से पुलिसकर्मी दिखे नदारद, शहर में लगा भीषण जाम

कोरोना को निमंत्रणः बाजारों में उमडा सैलाब , सुबह 9 बजे खुली सभी दुकानें, गाइडलाइन की उड़ी धज्जियां , चौराहों से पुलिसकर्मी दिखे नदारद, शहर में लगा भीषण जाम

- in Other Updates
413
0

पंकज वालिया / जनपद शामली

शामली। कोरोना महामारी को लेकर लाॅक डाउन में शासन के निर्देशों के बाद डीएम द्वारा जारी की गयी गाइडलाइन के पहले चरण में मंगलवार को बाजारों में सोशल डिस्टेंस की जमकर धज्जियां उड़ाई गई। सुबह 9 बजते ही शहर के बाजार खुल गए जहां खरीददारी को लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा। बाजारों मंे लोगों की इतनी भीड़ रही कि जाम की स्थिति पैदा हो गयी। लोगों को निकलने की जगह तक नहीं मिल सकी, वाहन घंटों जाम में फंसे रहे, वहीं चौराहों पर तैनात किए गए पुलिसकर्मी भी नदारद रहे। दुकानों पर सोशल डिस्टेंस का भी कोई पालन नहीं किया गया, लोग खरीददारी के लिए दुकानों पर उमड़ पड़े। भीड का यह आलम कोरोना को बढावा देने का काम कर रहा है, यदि कोरोना संक्रमण फैल गया तो इसे संभालना बेहद मुश्किल हो जाएगा।
जानकारी के अनुसार प्रदेश शासन द्वारा कोरोना महामारी को लेकर लागू किए गए लाॅक डाउन में छूट संबंधी दिशा निर्देश दिए गए हैं। शासन के निर्देशों के बाद सोमवार को

डीएम जसजीत कौर द्वारा जिले में नई गाइडलाइन जारी कर दी जिसके अनुसार सुबह 9 बजे से शाम 5 बजे तक जिले में सभी प्रकार की दुकानें खुलेंगी लेकिन रविवार को साप्ताहिक बंदी लागू रहेगी, इस दिन केवल दूध, दवा एवं सब्जी की दुकानें ही खुलेंगी। 8 जून से सभी धार्मिक स्थलों, पूजाघरों, होटल, रेस्टोरेंट को सोशल डिस्टेसिंग व फेस मास्क, ग्लब्स के साथ खोलने की अनुमति दी गयी है। इसके अलावा कई अन्य छूट भी प्रदान की गयी हैं लेकिन बाजारों की सभी दुकानों को खोलने की यह छूट लोगों पर भारी पड सकती है।

मंगलवार की सुबह 9 बजे जैसे ही शहर के बाजार खुले, खरीददारी के लिए लोगों का हुजूम उमड पडा। शहर के धीमानपुरा, सुभाष चौंक रेलवे रोड, मिल रोड, गांधी चैंक, बडा बाजार, नया बाजार, कबाडी बाजार, फव्वारा चैंक, वीवी इंटर कालेज रोड, हनुमान रोड, अग्रसेन पार्क नेहरु मार्किट आदि बाजारों में भीड का आलम यह रहा कि जाम की स्थिति पैदा हो गयी। दुकानों पर खरीददारी करने को लिए मारामारी सी मची रही, लोग बाइक, स्कूटी टैªक्टर ट्राली, कार आदि वाहन लेकर खरीददारी के लिए सडकों पर निकल पडे जिससे मुख्य मार्ग पर भी भीषण जाम लग गया। लोगों को निकलने की जगह तक नहीं मिल पायी।

वाहन घंटों जाम में फंसे रहे। वहीं बाजारों में तैनात किए गए पुलिसकर्मी भी मंगलवार को चैराहों व बाजारों से गायब रहे जिससे स्थिति और ज्यादा विकट हो गयी। हालांकि एक-दो स्थानों फव्वारा चैंक और विजय चैंक पर इक्का-दुक्का पुलिसकर्मी चेकिंग करते दिखे लेकिन
पहले वाली बात नजर नहीं आई, वहीं बाजारों में भी पुलिस की गाडियां दिखी लेकिन पुलिस ने लोगों को समझाना भी मुनासिब नहीं समझा। किसी भी दुकान पर सोशल डिस्टेंस, फेस मास्क, ग्लब्स या सैनेटाइजर का प्रयोग नहीं किया गया जिससे जिले में कोरोना फैलने की संभावना बढ गयी है, यदि कोरोना फैल गया तो इसे संभालना बेहद मुश्किल हो जाएगा। दूसरी ओर मंगलवार को भी शहर में गन्नों के वाहनों की लाइन लगी रही जिससे यातायात व्यवस्था एक बार फिर ध्वस्त नजर आयी। मिल रोड पर तो लोगों को निकलने की जगह नहीं मिल पाई। लोग जाम में काफी समय तक फंसे रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

मीम एग्रो के खिलाफ अधिवक्ताओ व व्यापारियों का गुस्सा,दिया ज्ञापन

विशाल भटनागर / कैराना मीम एग्रो से निकलती