उत्तरकाशी : हरेला पर्व की शुरुआत चिन्यालीसौड़ से, पर्यावरण संरक्षण के लिये मंत्री अरविंद पांडेय की आराकोट से अस्कोट तक की यात्रा

उत्तरकाशी : हरेला पर्व की शुरुआत चिन्यालीसौड़ से, पर्यावरण संरक्षण के लिये मंत्री अरविंद पांडेय की आराकोट से अस्कोट तक की यात्रा

- in article, states, Uttarakhand, Uttarkashi
106
0
@admin
  • संतोष साह

प्रदेश के कैबिनेट मंत्री अरविंद पांडेय ने आज हरेला पर्व व पर्यावरण संरक्षण यात्रा के तहत चिन्यालीसौड़ के छोटी नागणी में वृक्षारोपण कर आम जनमानस को पर्यावरण संरक्षण के लिये प्रेरित किया। उन्होंने बताया कि वे 16 जुलाई तक पर्यावरण संरक्षण यात्रा कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि पेड़ व मनुष्य एक दूसरे के पूरक हैं इसलिए आम जनमानस से अपील है कि हर व्यक्ति अपने जीवन मे 10 10 पौधों का रोपण करे।

कैबिनेट मंत्री ने छोटी मणि में रुद्राक्ष के पौध का रोपण किया और कहा कि जैसे वृक्ष लोगों को जीवन दान देकर अपनी पहचान बनाता है उसी तरह आपका व्यक्तित्व भी उतना बड़ा बना रहे। इस मौके पर भाजपा जिलाध्यक्ष रमेश चौहान, यमुनोत्री विधायक केदार सिंह रावत,महामंत्री हरीश डंगवाल, एसडीएम आकाश जोशी,युवा कल्याण अधिकारी विजय प्रताप भंडारी,एएमए जिला पंचायत संजय कुमार,उप खेल अधिकारी निर्मला पंत, जिला पंचायत सदस्य शशि कुमाई, धनबीर चंद रमोला,जितेंद्र वर्मा,संदीप सिंह,विजय बडोनी,शीशपाल रमोला समेत अन्य मौजूद थे।
उधर चिन्यालीसौड़ के उपरांत गेंवला,ब्रह्मखाल में भी वृक्षारोपण हुआ। यहां कैबिनेट मंत्री ने स्वतंत्रता संग्राम सेनानी चिन्द्रिया लाल को शाल ओढ़ाकर सम्मानित किया। इस दौरान विधायक यमुनोत्री, ब्लॉक प्रमुख शैलेन्द्र कोहली,जिला पंचायत सदस्या, पूर्व सदस्य लक्ष्मण भंडारी समेत अन्य मौजूद थे।
इससे पूर्व प्रातः शिक्षा मंत्री ने चिन्यालीसौड़ में पत्रकारों से बातचीत की और कहा कि सरकार पर्यावरण संरक्षण के साथ ही बेहतर शिक्षा व सुविधा पर जोर दे रही है। उन्होंने प्रत्येक व्यक्ति से जीवन मे पेड़ लगाने का भी आह्वान किया। उन्होंने कोरोना संकट में केंद्र व राज्य सरकार द्वारा उठाये जा रहे महत्वपूर्ण कदमो का भी जिक्र किया और कहा कि कोरोना के खिलाफ हमारी जंग कामयाब होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

पिथौरागढ़ के 136 परिवारों का गांव धापा धंस रहा,दरारें कर रही गांव छोड़ने को मजबूर,पुर्नवास के लिये 10 अगस्त को तहसील घेरने की दी चेतावनी

संतोष साह पिथौरागढ़ जिले का सीमांत गांव धापा