अल्मोड़ा: डीएम ने वार्षिक ऋण योजना एवं फसली ऋण योजना की समीक्षा करते हुए अनेक बैंकों की धीमी प्रगति पर नाराजगी व्यक्त की

अल्मोड़ा: डीएम ने वार्षिक ऋण योजना एवं फसली ऋण योजना की समीक्षा करते हुए अनेक बैंकों की धीमी प्रगति पर नाराजगी व्यक्त की

- in Almora
22
0
अल्मोड़ा/सनसनी सुराग
कलैक्ट्रेट सभागार में जिला स्तरीय पुनरीक्षण (डी0एल0आर0सी0) एवं समन्वय समिति की बैठक लेते हुये जिलाधिकारी नितिन सिंह भदौरिया ने ऋण जमा अनुपात की धीमी प्रगति पर नाराजगी व्यक्त करते हुए बैंकर्स को विभागीय अधिकारियों के साथ सामंजस्य बनाकर ऋण जमा अनुपात को बढाने के सख्त निर्देश दिये। जिन बैंकों द्वारा निर्धारित लक्ष्य से कम प्रगति दी है वे अगले त्रैमास में शतप्रतिशत उपलब्धि हासिल करना सुनिश्चित करें। उन्होंने धीमी प्रगति वाले बैंकर्स को ऋण जमा अनुपात में तेजी लाने हेतु पात्र लाभार्थियों को योजनाओं का लाभ पहुंचाने के लिये गम्भीरता से कार्य करने के निर्देश दिये।
जिलाधिकारी ने वार्षिक ऋण योजना एवं फसली ऋण योजना की समीक्षा करते हुए अनेक बैंकों की धीमी प्रगति पर नाराजगी व्यक्त की और अगली बैठक में प्रगति बढाने के निर्देश दिये। कृषि मियादी ऋण की समीक्षा करते हुए शत प्रतिशत उपलब्धि प्राप्त करने के लिए सभी बैंकों को विशेष प्रयास किये जाने पर जोर देते हुए इस क्षेत्र में उपलब्धि बढाने हेतु चालू वित्तीय बर्ष के लिए कार्य योजना तैयार करने को कहा। लद्यु उद्योग एवं सेवा व्यवसाय क्षेत्र में लक्ष्य के सापेक्ष उपलब्धि समय से प्राप्त करने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने कहा कि प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अन्तर्गत अधिकाधिक किसानों को फसल बीमा कराने के लिये प्रेरित किया जाय। उन्होंने कहा कि समस्त बैंक एवं कृषि विभाग के अधिकारी समन्वय बनाकर शतप्रतिशत लक्ष्य प्राप्त करना सुनिश्चित करें। उन्होंने कृषि अधिकारी को निर्देश दिये कि प्रत्येक विकास खण्डवार रोस्टर बनाकर कैम्प के माध्यम से किसानों को फसल बीमा के लिये आ रही समस्याओं का निराकरण करें।
जिलाधिकारी ने सभी बैंको को दूरस्थ क्षेत्रों  में वित्तीय साक्षरता अभियान चलाने के निर्देश दिये। उन्होंने ऋण जमा अनुपात को बढ़ाने के लिये मुख्य विकास अधिकारी की अध्यक्षता में जिला स्तरीय कोर कमेटी को प्रत्येक माह समीक्षा बैठक करने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने लघु उद्योग में लोन स्वीकृत कराने में आ रही दिक्कतों के समाधान के लिये बैंको को यथाशीध्र निर्णय लेने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने विभिन्न बैंको द्वारा वसूली हेतु काटी गयी आर0सी0 के लिये बैंक अधिकारियों को तहसील स्तर पर भी मिलान करते हुये वसूली में तेजी लाने के निर्देश दिये। इसके साथ ही उन्होंने प्रधानमंत्री जन-धन योजना, अटल पेंशन योजना, दीन दयाल अन्त्योदय योजना, राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन सहित अन्य योजनाओं की समीक्षा की और बैकर्स को व्यक्तिगत रूचि लेकर योजना का सफल क्रियान्वयन करने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने कहा कि जिन बैंको के अपेक्षित प्रगति नहीं पायी जाती है उनसे समस्त विभागीय खातों को हटा लिया जायेगा और ऐसे बैंको को खाते दिये जायेंगे जिनकी प्रगति सबसे अधिक होगी।
 बैठक में मुख्य विकास अधिकारी मयूर दीक्षित ने निर्देश दिये कि समस्त बंैकर्स अपना-अपना के्रडिट प्लान तैयार कर लें और उसे लीड बैंक अधिकारी को प्रेषित करें विशेषकर भारतीय स्टेट बैंक, पंजाब नेशनल बैंक और केनरा बैंक को जमा अनुपात में प्रगति करने की जरूरत है। इस बैठक में लीड बैंक अधिकारी ललित सेमवाल ने त्रैमासिक प्रगति की आख्या प्रस्तुत की और कहा कि जिलाधिकारी द्वारा दिये गये निर्देशों का पालन किया जायेगा।
इस दौरान जिलाधिकारी ने नाबार्ड द्वारा संचालित कृषक उत्पादक संगठन के कार्यों की भी समीक्षा की और कहा कि अधिकाधिक किसानों को इस कार्यक्रम के अन्तर्गत जोड़ा जाय ताकि वर्ष 2020 तक किसानों की आय दुगुनी करने का लक्ष्य प्राप्त किया जा सके। डी0डी0एम0 नाबार्ड मनोज कुमार शर्मा ने पावर पांइट के माध्यम से नाबार्ड के द्वारा संचालित विभिन्न कार्यक्रम व योजनाओं की जानकारी दी। इस बैठक में परियोजना निदेशक नरेश कुमार, मुख्य कृषि अधिकारी प्रियंका सिंह, मुख्य उद्यान अधिकारी हितपाल सिंह सहित अनेक शाखा प्रबन्धक तथा विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

पौड़ी: पर्यटन मंत्री द्वारा किया गया प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना का डीएवी इंटर कालेज परसिर में विधिवत दीप प्रज्वलित कर योजना का शुभारंभ।

पौड़ी/सनसनी सुराग देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने