अल्मोड़ा: आस-पास के क्षेत्र में विकास कार्यों को करने के लिए हमें ठोस कार्य योजना बनानी होगी- जिलाधिकारी।

अल्मोड़ा: आस-पास के क्षेत्र में विकास कार्यों को करने के लिए हमें ठोस कार्य योजना बनानी होगी- जिलाधिकारी।

- in Almora
40
0
अल्मोड़ा/सनसनी सुराग
धार्मिक पर्यटन की दृष्टि से महत्वपूर्ण जागेश्वर मन्दिर व उसके आस-पास के क्षेत्र में विकास कार्यों को करने के लिए हमें ठोस कार्य योजना बनानी होगी यह बात जिलाधिकारी नितिन सिंह भदौरिया ने आज जागेश्वर मन्दिर प्रबन्धन समिति की महत्वपूर्ण बैठक में कही। उन्होंने सहायक अभियन्ता लोक निर्माण विभाग, निर्माण खण्ड को निर्देश दिये कि योग मैदान को तैयार करने व पूर्ण में बने पुल को सही कर लें साथ ही आरतोला से जागेश्वर तक की सड़क मरम्मत के कार्य को समय से पूर्ण करने के साथ ही जहाॅ पर गडढे है उसे ठीक करा ले। पुल के निर्माण व योग मैदान के निर्माण हेतु आगणन बना लें।
जिलाधिकारी ने सहायक सम्भागीय परिवहन अधिकारी को निर्देश दिये कि आरतोला से जागेश्वर तक  श्रद्वालुओं हेतु वाहन चलायी जा सके इसके लिए प्रयास जारी कर दें। उन्होंने पर्यटन विकास अधिकारी को निर्देश दिये कि पर्यटन विभाग द्वारा जो कार्य कराये जाने है उसे समय से पूर्ण करने के साथ ही यदि अन्य कार्य भी जो किये जाने है उसके लिए कार्य योजना बना लें। कुमाऊ मण्डल विकास निगम द्वारा जागेश्वर में किये जा रहे कार्यों की जाॅच उपजिलाधिकारी भनोली द्वारा की जायेगी। इसके अलावा उन्होंने इस महत्वपूर्ण बैठक में यह भी कहा कि मन्दिर समिति एवं पुजारियों से सम्बन्धित समस्याओं का निदान मा0 उच्च न्यायालय के दिशा-निर्देशों के अनुसार ही किया जायेगा। मन्दिर के अन्दर जो नालियाॅ बन्द पड़ी है उसे खोलने के लिए भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण विभाग को दिये। मन्दिर के भोगशालाओं एवं आवश्यक मरम्मत जो वहाॅ की जानी है उस पर भी जिलाधिकारी ने कहा कि आवश्यकता अनुसार उसे करा लिया जाय। उन्होंने भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण के कार्यों पर गहरी नाराजगी व्यक्त की। मन्दिर के जो लकड़ी के गेट पुराने थे उनको ठीक करने पर भी सहमति बनायी गयी एवं मन्दिर में हाईमास्क लाईट लगाने, इलैक्ट्रानिक काउन्टिंग मशीन लगाने, जटागंगा के पास हो रहे भूमि कटाव को रोकने के लिए आवश्यक कार्यवाही करने, मन्दिर के समीप जहाॅ शवदाह किया जाता है वहाॅ पर जो विश्रामालय उसकी आवश्यक मरम्मत करने सहित जहाॅ पर वाहनो की पार्किंग सांस्कृतिक मंच के पास होती है उसके आगणन बनाने पर सहमति हुई।
जिलाधिकारी ने पेयजल की समस्या से निजात दिलाने के लिए जल संस्थान के अधिकारियों को निर्देश दिये कि यदि वहाॅ पर एक अतिरिक्त टैंक की व्यवस्था सम्भव हो तो उसकी व्यवस्था करा दें अन्यथा वहाॅ पर टैंकों की व्यवस्था आवश्यकता अनुसार करा दें। उन्होंने माह अक्टूबर में आयोजित होने वाले अल्मोड़ा महोत्सव की श्रंृृखला में जागेश्वर में होने वाले योग महोत्सव के बारे में जिला आपदा प्रबन्धन अधिकारी को निर्देश दिये कि वे आवश्यक व्यवस्थायें यथा समय कराना सुनिश्चित करेंगे इसके लिए सहायक अभियन्ता लोक निर्माण विभाग, निर्माण खण्ड उनके साथ समन्वय बनाकर कार्य करायेंगे। इस महत्वपूर्ण बैठक में कुमाऊॅ मण्डल विकास निगम के सहायक अभियन्ता के उपस्थित न रहने पर जिलाधिकारी ने वेतन रोकने के निर्देश दिये। इस महत्वपूर्ण बैठक में मन्दिर समिति द्वारा धर्मशालाओं के निर्माण हेतु अपनी बात रखी। इस पर जिलाधिकारी ने अधिशासी अभियन्ता ग्रामीण निर्माण विभाग को निर्देश दिये कि चयनित भूमि पर धर्मशाला निर्माण हेतु आगणन तैयार कर लें इसके अलावा स्थानीय महिला समूहों की समस्याओं पर विचार किया गया। जिलाधिकारी ने कहा कि उन्हें प्रसाद बनाने के लिए आम सहमति से पंचायत भवन उपलब्ध कराया जायेगा तथा दुकानदारों से अपील की जायेगी कि वे उनके प्रसाद को अवश्य खरीदें ताकि वे इस कार्य को और लगन से करेंगे। इसके अलावा उन्होंने कहा कि जो भी उनकी समस्यायें गैस सिलेण्डर आदि की है उसके बारे में जिला पूर्ति अधिकारी से वार्ता की जायेगी। इस अवसर पर उन्होंने पंचायत भवन का निरीक्षण, वन पंचायत भूमि का निरीक्षण, प्राथमिक विद्यालय जागेश्वर का निरीक्षण तथा योग मैदान का भी निरीक्षण किया।
इस अवसर पर जागेश्वर मन्दिर समिति के प्रबन्धक भगवान भटट ने मन्दिर समिति के अनेक विषयों पर प्रकाश डाला जिसमें पुजारियों की अनेक समस्याओं सहित अनेक महत्वपूर्ण माॅगों के निस्तारण के लिए अनुरोध किया। जिलाधिकारी ने कहा कि इन मामलों का निस्तारण मा0 उच्च न्यायालय के दिशा-निदेशों और मन्दिर समिति के बायलाज के अनुसार ही किया जायेगा। इसके अलावा श्रावणी मेले के बिलों के भुगतान पर भी चर्चा की गयी। इस बैठक में यह बात भी जिलाधिकारी ने कही कि मन्दिर समिति के नियमों का उल्लघंन यदि किसी के द्वारा किया जाता है तो नियमानुसार कार्यवाही अमल में लायी जायेगी। मन्दिर समिति के उपाध्यक्ष गोविन्द गोपाल ने भी अनेक बातो पर प्रकाश डाला। इस महत्वपूर्ण बैठक में उपजिलाधिकारी अवधेश कुमार सिंह, भाजपा नेता सुभाष पाण्डे, आपदा प्रबन्धन अधिकारी राकेश जोशी, जिला पर्यटन विकास अधिकारी राहुल चैबे, सहायक सम्भागीय परिवहन अधिकारी आलोक जोशी, सहायक अभियन्ता लो0नि0वि0, एस0डी0 पाण्डे, जल संस्थान के सहायक अभियन्ता मुकेश कुमार, तहसीलदार प्रयाग दत्त सनवाल, प्रभारी क्षेत्रीय पुरातत्व अधिकारी चन्द्र सिंह चैहान, पुजारी प्रतिनिधि भगवान चन्द्र भटट, प्रधान हरिओम भटट, हरीश भटट, भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण के मनोज कुमार जोशी सहित महिला स्वयंसहायता समूह की सदस्य, पटल सहायक दीपा पाण्डे व अन्य अधिकारी व गणमान्य लोग उपस्थित थे।
अल्मोड़ा 25 सितम्बर  2018 (सू0वि0) – जिलाधिकारी नितिन सिंह भदौरिया ने बताया कि शासन की प्राथमिकता के अनुरूप सुदूरवर्ती ग्रामीण क्षेत्रों में अधिक से अधिक मूलभूत सुविधाओं को उपलब्ध कराने एवं जन समस्याओं को मौके पर ही निस्तारित किये जाने के उददेश्य से दिनाॅंक 27 सितम्बर, 2018 को प्रातः 11ः00 बजे से राजकीय इण्टर कालेज तड़ागताल तहसील चैखुटिया में मा0 वस्त्र राज्य मंत्री, भारत सरकार  अजय टम्टा की अध्यक्षता एवं मा0 विधायक महेश नेगी की उपस्थिति में बहुउददेशीय शिविर का आयोजन किया जा रहा है।
अल्मोड़ा 25 सितम्बर  2018 (सू0वि0) – प्रभारी अधिकारी जिला कार्यालय अल्मोड़ा ने बताया कि अल्मोड़ा महोत्सव-2018 की तैयारियों के सम्बन्ध में जिलाधिकारी महोदय द्वारा दिनाॅंक 26 सितम्बर, 2018 को मध्यान्ह् 12ः00 बजे कलक्टेªट सभागार, अल्मोड़ा में एक आवश्यक बैठक आहूत की गयी है। जिलाधिकारी ने सभी अधिकारियों को निर्देश दिये कि इस बैठक में यथा समय/यथा स्थान प्रतिभाग करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

मेरठ — अतुल की पदयात्रा को अखिलेश का ग्रीन सिग्नल

  मेरठ मौ० रविश सपा नेता अतुल प्रधान