उत्तरकाशी : यात्रा मार्ग में आल वेदर कंपनियों की मनमानी,मार्ग बंद होने की स्थिति में इन्हें ढूढना मतलब व्यवस्था की पोल खुलना

उत्तरकाशी : यात्रा मार्ग में आल वेदर कंपनियों की मनमानी,मार्ग बंद होने की स्थिति में इन्हें ढूढना मतलब व्यवस्था की पोल खुलना

- in article, states, Uttarakhand, Uttarkashi
85
0
@admin
  • संतोष सह / उत्तरकाशी

एक दिन की बारिश से ही जब हालात बिगड़ रहे हैं तो अभी तो लंबी बारिश झेलनी है, मालूम नहीं तब कैसे काम चलेगा। डेंजर जोन से लेकर आल वेदर निर्माण स्थलों में भारी मशीनों की तैनाती हर समय रखने को लेकर यात्रा बैठकों में सुना था लेकिन फॉलो कहाँ हो रहा मालूम नही। आल वेदर की पोल बरसात में खुलनी तय थी क्योंकि इसमें लगी कंपनियों ने बरसात का जुगाड़ पहले से बनाकर तय रखा था। अब बरसात शुरू हो गई है,पहाड़ झड़ने लगे हैं,सडक बंद हो रही है लेकिन समय रहते तत्काल आवागमन सुचारू हो यहां मनमानी हो रही है। गौरतलब है कि वीआईपी भी मन रहे हैं कि सडक बंद होने की स्थिति में तात्कालिक व्यवस्था जो होनी चाहिए वह नहीं है। आज ब्रह्ममखाल के समीप मार्ग भूस्खलन से बंद हुआ। यहां जाम लग गय। जाम में गंगोत्री विधायक गोपाल रावत भी फंसे। हालात देख उन्होंने डीएम को फोन लगाया और कहा कि सड़कों में लगी कम्पनियो को दुरुस्त करने के लिये तत्कालिक कदम उठाये क्योंकि बरसात का मौसम है। मार्ग बंद होने की स्थिति में यात्री, स्थानीय लोगों को तकलीफ होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

उत्तरकाशी : किसानों,काश्तकारों को बांटे 1600 फलदार पौंधे

संतोष साह / उत्तरकाशी हरेला पर्व की पूर्व