दरिंदो ने तो दर्द देकर जिंदगी बद से बदतर कर दी थी। 4 साल बाद मिला इंसाफ।

दरिंदो ने तो दर्द देकर जिंदगी बद से बदतर कर दी थी। 4 साल बाद मिला इंसाफ।

- in Other Updates
88
0

कृष्णा पंडित ,डॉक्टर रणवीर सिंह /सनसनीसुराग न्यूज़
4 साल बाद काल्पनिक नाम रिया तिवारी को मिला इंसाफ*,

*सच्चाई छुप नहीं सकती बनावट के उसूलों से खुशबू आ नहीं सकती कभी कागज के फूलों से* यह कहावत बिल्कुल ही सत्य साबित हुआ एक लड़की जिसके साथ जिंदगी भर दर्द से जीने को मजबूर करने वाले दरिंदे को मिली सजा ! 4 साल पहले का यह मामला बहुत ही पेचीदा व दर्दनाक हादसा KIT कानपुर 10 फरवरी 2014 की थी !

जो पूरे हिंदुस्तान में अखबारों की सुर्खियां बन दरिंदों की दरिंदगी का अनसुना कहानी की तरह थी

*दिल्ली सुप्रीम कोर्ट ने 1 नवंबर को दिया पीड़िता को न्याय*

जिला आजमगढ़ के लालगंज स्थित कस्बे के पास रहने वाली लड़की जो 2014 में हुई थी इन दरिंदों की शिकार, *अपनी इज्जत बचाने के लिए इस वीरांगना ने तो 9 वीं मंजिल से छलांग लगा दी थी* जिसमें बुरी तरीके से घायल हो गई थी और इन सबके पीछे अर्थात जिम्मेदार अभिषेक शुभम और अमित के साथ साथ अवनीत नामक दरिंदा था, मुकदमे के दौरान दो लड़कों की हत्या हो गई थी जिसका नाम अभी भी रहस्यमय है बाकी दो लड़कों ने कुछ दिन पहले पीड़ित के ऊपर बुरी तरह केसे अटैक करते हुए रॉड से सर पर गंभीर चोट दी जिसकी वजह से पीड़िता 6 महीने कोमा में थी , केस इतना पेचीदा हो चुका था कि इसमें दिल्ली पुलिस की सहायता ली गई जांच कर रहे जांच अधिकारी विवेक मिश्रा CBI SP Crime branch आशुतोष तिवारी IPS ने इस लड़की के लिए मानो भगवान जैसे हैं जिन्होंने अपने अथक प्रयास से दूध का दूध और पानी का पानी करते हुए न्याय दिलाने के लिए पुरजोर कोशिश कि, और अंततः इनकी मेहनत ने रंग लाते हुए न्यायालय के संज्ञान में सारा मामला खुली किताब की पन्नों की तरह सामने आ गया और न्यायालय ने बहुत कड़ाई के साथ अवनीत और अमीत को 10 साल की सजा और छह लाख का जुर्माना सुनाया ! यही नहीं बहुत ही दुखद बात यह है कि पिछले दिनों हुए वाराणसी के कैंट हादसे में पीड़िता ने अपने बड़े भाई और मां बाप को भी खो दिया है, लेकिन भगवान के घर देर है अंधेर नहीं भगवान ने इस पीड़िता के साथ न्याय रूपी मंदिर अर्थात न्यायालय के इस आदेश और न्याय से पूरा परिवार आज सच की जीत और न्याय पर भरोसा करते हुए गुनाहगारो का सजा दिलाकर खुशी महसूस कर रहा है ! यही नहीं प्रशासनिक अधिकारियों और मीडिया को भी सधन्यवाद किया !!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

कैराना ब्लॉक में दिया गया बच्चों को साफ सफाई के लिए प्रोत्साहन पुरुस्कार

राकेश सैनी व डॉ0 रणवीर सिंह वर्मा सनसनी