लोकतंत्र के महापर्व चुनाव में यह मेरा जीवन का पहला मतदान है: आदित्या नेगी।

लोकतंत्र के महापर्व चुनाव में यह मेरा जीवन का पहला मतदान है: आदित्या नेगी।

- in Himachal Pradesh
63
0

समर नेगी

किन्नौर

नए मतदाता

लोकतंत्र के महापर्व चुनाव में यह मेरा जीवन का पहला मतदान है। यह मेरे लिए एक गर्व की बात है कि पहली बार अपने प्रथम मताधिकार का प्रयोग अपने देश के प्रति अपने कर्तव्यों का पालन करने जा रहा हूं।
मैं अपने सभी अनुयायियों,परिचितों,मित्रों और रिश्तेदारों से अनुरोध करता हूँ कि आप लोग 19 मई को मतदान आवश्य करें। तथा उस दिन का यह सबसे जरुरी काम समझें। वोट डालकर मताधिकार की व्यवस्था का सदुपयोग करना हमारा दायित्व है।
मैं स्वयं 19 मई को अपने क्षेत्र के पोलिंगबूथ पर मतदान करने जाऊंगा। लोकसभा चुनाव के इस महापर्व में मतदान करने का यह मेरा पहला अनुभव होगा। में इसके लिए काफी उत्साहित हूं ।में भी व्यक्तिगत तौर पर प्रत्याक्षियों की छवि को ध्यान में रखकर मतदान करुगा। में देश के लिए मजबूत सरकार चुनने में सहभागिता निभाउगा।में अपना वोट उसे दुगा जो देशहित की बात व कार्य करेगा।मेरा मानना है कि मतदान करने से देश की तरक्की पर काफी प्रभाव पड़ता है।
अब जैसे जैसे मतदान का दिन नजदीक आ रहा है, मुझे अपनी जिममेदारियां का अहसास हो रहा है। यह चुनाव शायद मेरे जीवन का सबसे बड़ा बल्कि पूरे देश के लिए एक नया इतिहास रचने वाला चुनाव होगा ।और यही दिन देश का भविष्य सवारने और बिगाड़ने वाला चुनाव भी होगा। हमारे देश के गांवों में अधिकतर लोग बहुत प्रसन्नता के साथ वोट डालने के लिए जाते हैं।
में चुनावी सर्वे,और चुनावी विश्लेषण को बहुत चाव से देखता,सुनता हूं। कई लोग मतदान नहीं करते,इसलिए देश में कई दलो की मिलिझूली ,अस्थिर,भ्रष्ट,सौदेबाजी करने वाली और आयोजी सरकार बनती है और बिगड़ती है।
19 मई को मतदान के अंतिम चरण में जिन क्षेत्रों में मतदान है,वहां के मतदाता अपने घरों से बाहर निकलें और जाकर मतदान करें। मतदाताओं से निवेदन है कि निर्भय होकर मतदान करें। भय, पक्षपात, स्वार्थ, लालच या दबाव में मतदान न करें। मतदाता को लोकतंत्र की रक्षा, क्षेत्र के विकास और संविधान-प्रदत्त अधिकारों के लिए मतदान करना है।
लोकतंत्र में भी मतदान देश और संविधान की रक्षा के लिए किया जाता है। वोट बेखौफ होकर डालिए। दान स्वार्थ भावना से ऊपर उठकर कीजिए। धर्म, जाति, पार्टी, लोभ, लालच मतदान में नहीं आना चाहिए बल्कि उनके सामने देश पहले होना चाहिए क्योंकि देश सुरक्षित रहेगा तो हम है तथा अपने राष्ट्र धर्म को निभाते हुए सही प्रत्याक्षी को ही चुने ।
मैं केवल मतदाता नहीं बल्कि एक जागरूक मतदाता बनने का प्रण लेता हूं।

आदित्य नेगी
ठाकुर सेन नेगी राजकीय महाविद्यालय रिकांगपिओ किन्नौर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

भाजपा ने प्रेस कांफ्रेंस के माध्यम से केंद्र सरकार की पाँच साल प्रदेश सरकार के डेढ़ वर्ष और वर्तमान में मंडी संसदीय भाजपा प्रत्याक्षी के पाँच साल के उपलब्धियों की जानकारी दी ।

समर नेगी किन्नौर हिमाचल प्रदेश किनौर मुख्यालय के