गांव के अंदर पोल्ट्री फार्म बनने से ग्रामीण परेशान, मन्नु गढ के ग्रामीणों ने डीएम व पुलिस को प्रार्थना पत्र देकर पोल्ट्री फार्म हटवाने की की मांग

गांव के अंदर पोल्ट्री फार्म बनने से ग्रामीण परेशान, मन्नु गढ के ग्रामीणों ने डीएम व पुलिस को प्रार्थना पत्र देकर पोल्ट्री फार्म हटवाने की की मांग

- in Shamli
82
0

 

गांव में जांच को आए स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी पर लगा लीपापोती का आरोप
झिंझाना जनपद शामली से
सनसनी सुराग के लिए
तस्लीम अहमद के साथ
डॉ0 रणवीर सिंह वर्मा

झिंझाना  : म्यान कस्बा  बिडौली के मजरे मन्नु गढ़ में 4 माह पहले बना पोल्ट्री फार्म ग्रामीणों की परेशानी का सबब बना हुआ है । इससे उत्पन्न मक्खियों से ग्रामीण अच्छे खासे परेशान है । ग्रामीणों ने प्रार्थना पत्र देकर  जिलाधिकारी शामली व पुलिस से इस पोल्ट्री फर्म को हटाए जाने की मांग की है।
मिली जानकारी के अनुसार म्यान  कस्बा (बिडौली) के मजरे मन्नू गढ़ में चंद्रसेन व चंद्रपाल निवासी गण माजरा निकट हाथी करौदा (शामली)  द्वारा करीब 4 माह पहले पोल्ट्री फार्म बनाया गया था । उससे निकलने वाला मक्खियों का  सैलाब पूरे गांव को परेशान कर रहा है । मक्खियों से परेशान ग्रामीणों ने आज जनपद के पुलिस अधीक्षक व थाना प्रभारी निरीक्षक ओ पी चौधरी की हाईवे पर खड़े होकर अपनी शिकायत की , और पोल्ट्री फार्म को हटवाने की मांग की ।
गांव के मोहन आदि लोगों ने बताया कि इस पोल्ट्री फार्म को हटाने के लिए डीएम शामली को प्रार्थना पत्र दिया गया था । जिसकी जांच करने स्वास्थ्य विभाग के कोई अधिकारी आए थे ।  ग्रामीणों का कहना है कि उस स्वास्थ्य अधिकारी ने पोल्ट्री फार्म के अंदर बंद कमरे में मालिकों से बात की और निकल चले गए । जबकि ग्रामीणों का आरोप है कि स्वास्थ्य अधिकारी ने बंद कमरे में कोई सेटिंग कर ली । ग्रामीणों ने स्वास्थ्य विभाग के उस अधिकारी का मोबाइल नंबर भी मीडिया को दिया ।
मीडिया ने उस नंबर पर 3 बार कॉल किया । मगर स्वास्थ्य विभाग के उस अधिकारी ने फोन रिसीव करना गंवारा नहीं समझा । ट्रू कालर पर उसका नाम राजेश आया । जांच करने गए उच्च अधिकारी से ग्रामीण अच्छे खासे नाराज है । उन्होंने इस पोल्ट्री फार्म को गांव के अंदर से हटाने की मांग की है । साथ ही मीडिया के माध्यम से भी डीएम साहब तक ग्रामीणों ने अपने मांग पहुंचाई है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

Exclusive : उत्तरकाशी : सामान खरीदने के लिए कीचड़ में भी टूट पड़े लोग

  संतोष साह /उत्तरकाशी माघ मेला समाप्त होने