दूध के प्लांट से अमोनिया गैस लीकेज होने पर मोहल्लेवासियों में मचा हड़कंप

दूध के प्लांट से अमोनिया गैस लीकेज होने पर मोहल्लेवासियों में मचा हड़कंप

- in Mujaffarnagar
36
0
नवीन गोयल/सनसनी सुराग
मुज़फ्फरनगर में देर शाम अकबर नामक दूध के प्लांट में अमोनिया गेस लिकीज़ होने से दूध के प्लांट के आस पास अफरा तफरी मच गई।वही प्लांट के बराबर में रह रहे लोगो तुरन्त ही अपने मकान छोड़कर प्लांट से 300 मीटर की दूरी पर जाकर अमोनिया गैस से बचाव के लिए खड़े हो गए।वही मौजूदा लोगो ने गेस की चपेट में आए लोगो के मुह पर पानी मारकर गेस से बचाव कराया। वही मोहल्ले वासियो घटना की सूचना पुलिस को दी।मौके पर पहुंची पुलिस की  घटना की शिकायत की तो प्लांट मालिकों ने शिकायत कर्ताओं को दबंगई दिखाते हुए लड़ाई झगड़ा शुरु कर दिया और कवरेज करने पहुंचे मीडिया कर्मियों के साथ भी अभद्रता का व्यवहार किया। वही मौके पर पहुंची अधिकारियों ने मामले को हल्का बताते हुए रफ दफा कर दिया। जिसमें थाना पुलिस ओर 100 नंबर पुलिस ओर आलाधिकारी सत्ताधारी नशे में चूर नेता के फोन आते बिना कुछ किये ही वापस लौट आई इस बात को देखकर आसपास के लोगो मे आक्रोश पैदा ओर उन्होने बताया कि कही बार प्लांट की शिकायत की आलाधिकारियों से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से शिकायत की जा चुकी है लेकिन आज तक कोई कार्यवाही नही हुई है।
दरअसल आपको बता दें कि  मामला कस्बा बुढाना के कर्बला रोड का है जहां अकबर नाम का दूध का प्लांट है जो घनी आबादी के बीच मे बना हुआ है जिसमे तेज गर्मी के चलते दूध खराब ना  हो इसके लिये प्लांट में अमोनिया गैस का भी उपयोग किया जाता है वही देर शाम यहां अचानक किसी कारण से अमोनिया गैस का पाईप लीकज हो गया। और अमोनिया गैस का पाईप लीकज होते ही मोहल्ले वासियों में जबरदस्त हड़कंप मच गया और अफरा-तफरी का माहौल बन गया। वही शोर शराबा सुनकर मौहल्ले के लोगों ने  मकान खाली कर लगभग दूध प्लांट से 300 मीटर की दूरी पर जा पहुंचे। जिसमें गैस लीकज होते ही देखते ही देखते मौहल्लेवासी व कस्बे वासी धीरे-धीरे अमोनिया गैस की चपेट में आने लगे। वही सूचना पर पहुंची पुलिस ने मामले को देख हल्का बताते हुए वहां स बिना कार्यवाही किये ही वापस लौट आई। वही गैस की चपेट में आये लोगों की आंखों पर पानी डालकर लोगों को होश में लाया गया। जिसमें प्लांट के आसपास खेल रहे बच्चे भी अमोनिया गैस की चपेट में आ गए। वही मोहल्ले वासियों का कहना है कि  अमोनिया गैस की चपेट में आने से बच्चों की जान भी जा सकती थी लेकिन मौहल्लेवासी व प्लांट मालिक की इसी बात को लेकर जबरदस्त विवाद हो गया। वही दूसरी और जब मौहल्ले के लोगों ने पुलिस के सामने प्लांट मालिक की शिकायत की तो प्लांट मालिक ने पुलिस के सामने लोगों के साथ विवाद करते हुए मीडियाकर्मियों के साथ भी अभद्रता का व्यवहार किया जबकि पुलिस मूकदर्शक बनी तमाशा देखती रही थी जिसमें बड़ी बात यह है कि दूध प्लांट मालिकों ने घनी आबादी के बीच प्लान्ट बना रखा है जिसकी शिकायत अलाधकिरियो व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से भी कही बार की जा चुकी है लेकिन आजतक भी कोई कार्यवाई नही की है ओर लोगो ने यह भी आरोप लगाया कि दूध के प्लांट से कुछ दूरी पर चलकर सत्ताधारी नेता के तीन कोल्ड स्टोर ओर भी बने हुए लेकिन शिकायत कागजी पन्नो में दबकर रह जाती है लेकिन सोचने वाली बात यह कि शिकायत के बावजूद अधिकारी कार्यवाही करने में असमर्थ है क्या अधिकारी भोपाल कांड की राह देख रहे जैसे भोपाल में हुआ था अब देखना यह कि अधिकारी घनी आबादी के बीच मे बने प्लांट व कोल्ड स्टोर को बन्द कराती है या सत्ता धारी नशे में चूर नेताओ के दबाव में कोई कार्यवाही करते है या नही।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

मुज़फ्फरनगर: ढांग में दबने से दो की मौत

नवीन गोयल/मुज़फ्फरनगर मुजफ्फरनगर में कुए की मिट्टी गिरने