हरिद्वार : DM दीपक रावत ने ली भारत सरकार से प्राप्त लक्ष्यों की प्रगति की समीक्षा बैैठक

हरिद्वार : DM दीपक रावत ने ली भारत सरकार से प्राप्त लक्ष्यों की प्रगति की समीक्षा बैैठक

- in haridwar
32
0

 

हरिद्वार / सनसनी सुराग
जिलाधिकारी दीपक रावत ने विस्तारित ग्राम स्वराज अभियान में भारत सरकार से प्राप्त लक्ष्यों की प्रगति की समीक्षा बैैठक कलेक्टेªट स्थित सभागार में ली। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी स्वाति भदौरिया भी उपस्थित रहीं।

भारत सरकार द्वारा स्वास्थ्य, टीकाकरण, हर घर को बिजली, उरेडा के माध्यम से एलईडी वितरण, शत प्रतिशत गैस कनेक्शन के लिए उज्ज्वला, प्रधानमंत्री सुरक्षा, जीवन ज्योति, प्रधानमंत्री जनधन, प्रधानमंत्री आवास योजनाओं से हरिद्वार के 53 गांवो के पूर्ण आच्छादित किये जाने का लक्ष्य दिया गया था। विभाागों द्वारा उक्त गांवो को ग्राम स्वराज अभियान के माध्यम से समस्त सेवाओं से पूर्ण आच्छाादित किये जाने का लक्ष्य जनपद द्वारा प्राप्त कर लिया गया है।

इस सफलता के बाद नीति आयोग भारत सरकार की ओर से राज्य के दो अभिलाषी जनपदों में शामिल हरिद्वार के लिए नये दिशा निर्देशों के अनुसार इस जनपद के 1000 से उपर की आबादी वालें गांवो को चिन्हित कर नये लक्ष्य विभागों को दिये गये हैं। इन योजनाओं में पांच अन्य नयी योजनोओं को जोड़ते हुए अभियान का नाम विस्तारित ग्राम स्वराज अभियान किया गया है।

विस्तारित ग्राम स्वराज अभियान में विद्यालयी शिक्षा, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, कृषि, कौशल विकास, पोषण आदि को जोड़ते हुए हरिद्वार जनपद के एक हजार से ज्यादा की आबादी के 333 गांवों को 01 जून से 15 अगस्त तक शत प्रतिशत आच्छाादित करने का लक्ष्य दिया गया है।

जिलाधिकारी ने सम्बंधित अधिकारियों से लक्ष्य तथा प्राप्ति की प्रगति पर विस्तार से चर्चा की। उन्होंने महिला एवं बाल कल्याण विभाग द्वारा कम्नयुनिटी बेस्ड इवेंट को प्रोत्साहित करते हुए अधिक से अधिक महिलाओं तथा बच्चों को लाभान्वित किये जाने, शिक्षा विभाग द्वारा बालिका शिक्षा को बढ़ावा, विद्यालयों में शौचालयों तथा शुद्ध पेयजल आपूर्ति सुनिश्चित किये जाने, विद्यालयों में ड्राॅप आउट रेट शून्य किये जाने, छात्रों को पुस्तकों की उपलब्धता हेतु बुक बैंक चलाने, के लक्ष्य प्राप्ति की समीक्षा की। स्वास्थ्य विभाग द्वारा पूर्णतः टीबी उन्मूल, हैल्थ एवं वैलनेस सेंटर स्थापित किये जाने हैं। सीएमओ ने बताया कि दोनो के लिए गांव चिन्हित कर लिये गये हैं। ये सेंटर मुंडलाना तथा मकदूमपुर में बनाये जायेंगे।

सेवायोजन विभाग द्वारा प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना में अधिक से अधिक युवाओं के आवेदन तथा युवाओं में स्वरोजगार के लिए कौशल क्षमताओं को बढ़ाते हुए अधिकांश आबादी को लाभान्वित किया जाना है।

अभियान के माध्यम से लाभ पाने वालों की पात्रता का मानक भारत सरकार द्वारा किये गये सोशल इकाॅनोमिकल सर्वे को बनाया गया है। इसके साथ ही अनूसूचित जाति-जनजाति, प्रधानमंत्री आवास योजना के पात्र, अन्त्योदय के पात्रों को भी विस्तारित ग्राम स्वराज अभियान में शामिल करते हुए लाभान्वित किया जायेगा।

जिलाधिकारी ने अधिकारियों से कहा कि राज्य की प्रभारी सचिव श्रीमती ज्योत्सना सिटलिंग इस अभियान की प्रगति समीक्षा स्वंय करेंगी इसलिए उक्त विभागों के अधिकारी अपनी पावर पाॅइंट प्रेजेंटेशन बेसिक तथ्यों रणनीति पर तैयार करके प्रस्तुत करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

पहाड़ी क्षेत्रों में पार्किंग प्रबन्धन पर विशेष ध्यान दिया जाए: मुख्यमंत्री

  देहरादून / सनसनी सुराग जिला स्तरीय अधिकारियों