स्टेट बैन्क ऑफ इडिंया की बसेडी शाखा मे पुनः हुई गडबड

स्टेट बैन्क ऑफ इडिंया की बसेडी शाखा मे पुनः हुई गडबड

- in Dholpur, Rajasthan
157
0

Report – Rohit sharma/ state head Rajasthan

धौलपुर(राजस्थान)- स्टेट बैंक ऑफ़ बीकानेर एंड जयपुर का भारतीय स्टेट बैंक में विलय हुए कुछ माह ही बीते ही है तभी एसबीआई शाखा बसेड़ी की लेट लतीफ कार्य शैली का मामला आया है ।
जानकारी मिली है कि एसबीआई बसेड़ी में मजदूर वर्ग खाता धारकों को बैंक प्रबन्धन क़ी लेटलतीफ शैली अपने ही पैसों के भुगतान मिलने में परेशानी पैदा कर रही है।
मामले के अनुसार भारतीय स्टेट बैंक शाखा बसेड़ी में खाता संख्या 61249828095,61073727957,61080148041,51071243077,61270568934, 6127 9799011में खाता धारक दीपक , मुन्ना लाल, राजकुमार,रामजीलाल,रवि,भूपेंद्र ने विगत 21 अगस्त 2017 को बैंक ऑफ़ बड़ौदा बैंक शाखा बाड़ी के चैक संख्या 000303,
000304,
000305,
000311,
000307,
000312 जमा कराए थे लेकिन उक्त चैको का भुगतान अभी तक इन दिहाड़ी मजदूरों को अभी तक नहीं मिला है मामले की सूचना बैंक प्रबंधक को भी दे दी गयी लेकिन परेशानी जस की तस है । पीड़ित राजकुमार ने बताया बैंक प्रबन्धक से कई बार इस मामले को लेकर मिला हूं पहले वे टालते रहते अब तो उन्होंने साफ कह दिया क़ि में तो अभी नया आया हूं मुझे क्या पता तुम्हारे चैको का पहले बाले मैनेजर से से पूछो की कहाँ गए चैक। मामला कुछ भी हो मैनेजर की बातों से तो साफ झलक रहा है कि बैंक में कुछ तो गड़बड़ हुआ है अनुमान ये भी है क़ी कही उक्त चैक लापरवाही के चलते गुम तो नहीं हो गए मामला कुछ भी हो बैंक की लापरवाही की बजह से त्यौहार पर पैसों से तंग हुए परेशान मजदूरों ने बताया हमने सोचा था दीवाली पर पैसा मिल ही जायेगा लेकिन अब नहीं लगता कि पैसा उन्हें मिलेगा।

खामोस है संबाद-
बैंक मैनेजर पीआर चौधरी से फ़ोन पर जानकारी ली तो उन्होंने बताया की में जानकारी ले रहा हूं कुछ दिन इंतजार करो लेकिन विगत शनिवार से फोन से संपर्क साधने की कोशिस लगातार की जा रही है लेकिन फ़ोन कट जाता है लेकिन संपर्क नहीं होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

राजस्थान की मुख्यमन्त्री के ग्रह जिले मे सरकारी तन्त्र द्वारा परीक्षार्थीयो को डराकर हो रही अवेध वसूली

रिपोट-रोहितशर्मा / धोलपुर (राजस्थान) धोलपुर – राजस्थान की