राजनिती का अखाङा बनी मोहकमपुरा पैय जल योजना, 63लाख खर्च फीरभी मोहकमपुरा प्यासा

राजनिती का अखाङा बनी मोहकमपुरा पैय जल योजना, 63लाख खर्च फीरभी मोहकमपुरा प्यासा

  •  धर्मेन्द्र सोनी / सनसनी सुराग

एक ओर सरकार ग्रामिण अंचल के लोगो के लिए पिने के पानी पर लाखो खर्च कर पानी की टंकी पाईप लाईन कुआ मोटर बिजली का कनेक्शन भी सरकार मुहेया कराती है ताकी आम जन को समय समय पर पिने का पानी मिलसके लैकिन दुर्भाग्य की बात हे की सरकार लाखो रुपये खर्च करे ओर एक नही दो मंत्री आकर एक स्विक्रती का पत्थर गाङे ओर दुसरे मंत्री आकर बनी टंकी का वाल खोल लोगो के घरो तक पानी पंहुचाए लैकिन वही लाखो की लागत से बनी टंकी अगर राजनिती के अखाङे की भेट चङजाए ओर जनता प्यासी रहे ओर राजनिती करने वाले कुछ ना करे तो एसे लोगो पर विश्वास करे तो कैसे एसा ही मामला राजस्थान के बासवाङा जिले की कुशलगढ तहसिल की ग्राम पंचायत मोहकमपुरा का मामला सामने आया हे तात्कालिन काग्रेस सरकार के समय यहा पर पुर्व मंत्री महेन्द्र जितसिह मालविया ने 63लाख का बजट देकर यहा पानी की टंकी कुआ मोटर बीजली कनेक्शन पाईप लाईन की सोगात जनता को दी सरकार बदलने के बाद भाजपा सरकार के मंत्री जीतमल खाट ने बनी टंकी का वाल खोला तब जनता को लगा की अब मोहकमपुरा प्यासा नही रहे गा लैकिन राजनिती पक्षपात व मे बङा मे बङा की हट धर्मिता के चलते 63लाख रुपये खर्च के बावजुद यह पैयजल योजना 63दिन नही चली व भाजपा सरकार के तीन साल बाद भी यह योजना राजनिती का अखाङा बन चुकी वही जनता के वोट पर सत्ता के सिहासन पर बैठने व्ले ही पिछले तीन साल तक ईस टंकी से पानी नही पिलापाए पंचायत आज भी जैसे तैसे पुरानी ट्युब वेल से गाव मे बारी बारी पानी तो देती हे वो भी बारी बारी हम आपको बतादे की कुछ लोग जनभावना के तहत जनप्रतिनिधी बनने के लिए नेता तो बन जाते हे ओर अपना स्वार्थ साधते रहते हे मंचो पर फोटो व नाम छपवाने पद पाने मे आगे तो आ जाते हे पर जनता की तकलिफ को क्यो भुलजाते ऐसा ही भोहकमपुरा के साथ हुवा कल बुधवार को ईसी टंकी के पास एक नही दो लाल बत्ती आएगी एक संसदिय सचिव भीमाभाई ङामोर दुजे मंत्री धनसिह रावत यानी चार सरकारी लाल बत्तीया पिछले साङे तीन साल मे ईसी जगह आए पर राजनिती मे अखाङे के पहलवान राजनिती करते रहे पर टंकी की ओर व ग्रामिणो की समस्या पर ध्यान क्यो नही !)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

चुनावी महाभारत : यमनोत्री में कोंग्रेस प्रत्तयासियों की भीड़

यमुनोत्री / अरविन्द थपलियाल विधानसभा: कांग्रेंस में कौन