मेडिकल कॉलेज गोरखपुर में पुलिस एवं प्रशाशन के उदासीन व्यहार के विरोध में चिकित्सा शिक्षको के परिवारोंने प्रधानाचार्य के समक्ष उपस्थित हो काली पट्टी बांध कर अपना विरोध दर्ज करायाI

मेडिकल कॉलेज गोरखपुर में पुलिस एवं प्रशाशन के उदासीन व्यहार के विरोध में चिकित्सा शिक्षको के परिवारोंने प्रधानाचार्य के समक्ष उपस्थित हो काली पट्टी बांध कर अपना विरोध दर्ज करायाI

- in Other Updates
205
0

अभिषेक कुमार सिंह  गोरखपुर  बाबा राघव दस मेडिकल कॉलेज परिसर में सिलसिलेवार चोरी एवं लूट की वारदातों में पुलिस एवं प्रशाशन के उदासीन व्यहार के विरोध में आज पूर्वाहन 11 बजे चिकित्सा शिक्षको के परिवारोंने प्रधानाचार्य के समक्ष उपस्थित हो काली पट्टी बांध कर अपना विरोध दर्ज करायाI

मेडिकल कॉलेज परिसर एवं चिकित्सको के आवासों से चोरी होना कोई नई बात नहीं है, लेकिन विगत कुछ महीनो से सिलसिलेवार तरीके से चोरी होने एवं पुलिस द्वारा इन अपराधो में कोई प्रभावी कार्यवाही न करने से अपराधियों के मनोबल में वृद्धि होने से चोरी की वारदाते डकैती में तब्दील होती जा रही हैIऐसा ही कुछ डॉ राजकिशोर सिंह के अपने पूरे परिवार की मौजदगी में उनके घर में हुई वारदात से प्रतीत होता हैI दुर्साहस ये की  इस घटना के तीन दिन के अन्दर ही उनके पीछे वाले ब्लाक में रहने वाले डॉ राजेश रावत के घर में रात के समय पीछे के कमरे का दरवाजा तोड़ कर घर में घुसने एवं लूट की वारदात को अंजाम देने की कोशिश की गयी, जिसमे डॉ रावत के जग जाने एवं पड़ोसियों के इकठ्ठा होने की वजह से चोर अपने मंसूबे में कामयाब नहीं हो सकेI उपरोक्त घटनाक्रम से मेडिकल कॉलेज आवासीय परिसर में रहने वाले परिवारों में भय कामाहौल व्याप्त हैI

उपरोक्त घट्न के सम्बन्ध में प्रभावी कार्यवाही करने हेतु चिकित्सा शिक्षक अब तक कॉलेज प्रशाशन, कमीशनर, एस0 एस0 पी0 सब से गुहार लगा चुके है लेकिन अब तक कोई संतोष जनक नतीजे सामने नहीं आयेI इस सम्बन्ध में सूबे के मुख्यमंत्री जी को भी ज्ञापन दिया जा चूका है लेकिन प्रभावी कार्यवाही तो दूर थानाध्यक्ष गुलारिह्याएवं जांच अधिकारी की कार्यशाली को देखते हुए दोनों की भूमिका भी संदेह के घरे में हैI उपरोक्त के परिपेक्ष में अब चिकित्सा शिक्षको एवं उनके परिवारों में कॉलेज प्रशाशन के सौतले रवैये के प्रति आक्रोश है, एवं पुलिस प्रशाशन के प्रति निष्ठा समाप्त होने के कगार पे हैI ऐसेभय एवं असुरक्षा के वातावरण में अपनी सेवाए एवं सरकारी कार्यो का निष्पादन करने में इन्हें परेशानियों का सामना करना पड़ रहा हैI इस समस्या से निजत पाने हेतु मेडिकल कॉलेज परिसर में अधिवासितचिकित्सा शिक्षक एवं उनके परिवार आन्दोलन करने हेतु बाध्य है जो की भविष्य में और उग्र हो सकता है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

अतिक्रमण हटा कर कौड़ीराम प्रशासन हुआ सतर्क।

अभिषेक कुमार सिंह (गोरखपुर) के लगातार कौड़ीराम मार्ग