माॅक अभ्यास : अल्मोड़ा के जंगलों में भीषण आग, बचाव में भागा वन विभाग

माॅक अभ्यास : अल्मोड़ा के जंगलों में भीषण आग, बचाव में भागा वन विभाग

- in states, Uttarakhand, Uttarkashi
73
0
@admin
  • अल्मोड़ा / सनसनी सुराग
जिलाधिकारी सविन बंसल ने बताया कि आज राज्य आपदा प्रबन्धन प्राधिकरण देहरादून से प्राप्त निर्देशों के क्रम में जनपद में प्रातः 8ः40 बजे से वनाग्नि का माॅक अभ्यास शुरू किया गया। उन्होंने बताया कि जनपद मुख्यालय में 03 स्थानों फलसीमा वन क्षेत्र, डोईडाडा आरक्षित वन क्षेत्र एवं सिटोली आरक्षित वन क्षेत्र में आग बेकाबू होने सूचना प्राप्त हुई। उन्होंने बताया कि सूचना प्राप्त होते ही 8ः42 बजे आपदा कन्ट्रोल रूम द्वारा आई0आर0एस0 नामित सारे अधिकारियों को वायरलेस/दूरभाष पर सूचित किया गया। लाईजनिंग आफिसर द्वारा राज्य आपातकालीन परिचालन केन्द्र देहरादून में सूचना दी गयी। मास्टर कन्ट्रोल रूम द्वारा बताया गया कि फलसीमा में जंगल में 06 है0 वन पंचायत क्षेत्र में आग लगी है तथा आग आबादी ़क्षेत्र की ओर बढ़ रही है। इसी तरह सिटोली में 04 है0 और डोईडाना में 06 है0 में आग लगी है जिसमें मेडिकल टीम, वेटनरी टीम, फायर बिग्रेड भेजने हेतु स्टेजिंग एरिया मनेजर द्वारा अनुरोध किया गया। उन्होंने बताया कि विषय की गम्भीरता को देखते हुए तुरन्त प्रभावित क्षेत्रो में टीम रवाना की गयी। टास्क फोर्स टीम ने अवगत कराया कि सिटोली के जंगलों में 07 है0 में आग फैली है जो गाॅव की तरफ फैल रही है उसे बुझाने हेतु मैन पावर, फायर बिग्रेड और 02 टैंकरों की आवश्यकता पड़ेगी और टास्क फोर्स द्वारा यह भी बताया गया कि सिटोली के जंगल में भैस की आग लगने से झुलस कर मरने की सूचना आयी है और डोईडाना से टास्क फोर्स टीम ने बताया कि 01 फायर वाचर अमित की आग बुझाते समय दम घुटने से बेहोश हो गये है। स्टेजिंग एरिया मनेजर द्वारा बताया गया कि सिटोली के लिए
एन0डी0आर0एफ0 की एक टीम रवाना कर दी गयी है। टास्क फोर्स द्वारा बताया गया कि केन्द्रीय विद्यालय के 08 बच्चे घायल हो गये है जिन्हें उपचार बेस अस्पताल लाया गया है और एक भैस मर गयी है जिसका पोस्टमार्टम चल रहा है 02 गाय झुलस गयी थी जिनका उपचार किया जा रहा है। स्टेजिंग टीम मनेजर ने यह भी बताया कि सिटोली के पास आबादी क्षेत्र के मकान में एक बाघ घुस गया है जिसके लिए टैªकुंलाईजर टीम रवाना तुरन्त कर दी गयी।
जिलाधिकारी ने बताया कि टास्क फोर्स टीम द्वारा बताया कि एक फायर वाचर विवेक जो आग बुझाते समय दम घुटने से बेहोश हो गये थे उन्हें उपचार हेतु बेस चिकित्सालय में भर्ती कराया गया। 03 लोगो को मौके पर फस्र्ट एड देने के बाद छोड दिया गया। उन्होंने बताया कि मेरे द्वारा आपदा कन्ट्रोल रूम से स्टेजिंग एरिया से वायरलेस द्वारा सम्पर्क स्थापित किया गया और स्टेजिंग एरिया मनेजर से वस्तुस्थित की जानकारी प्राप्त कर व्यवस्थायें करायी गयी। उन्होंने बताया कि आज के इस माॅक ड्रिल में कुल 18 लोग घायल हुए जिनमें से 13 पुरूष, 08 महिलायें थी। 11 लोगो का मौके पर उपचार किया गया। 06 घायलो को बेस अस्पताल के लिए रैफर किया गया जिनमें से 04 घायल 10 प्रतिशत जले थे और 02 सामान्य थे। इन घायलों में टास्क फोर्स एरिया 01 सिटोली में 11 लोग घायल हुए टास्क फोर्स 02 डोईडाना में 03, टास्क फोर्स 03 फलसीमा में 04 लोग घायल हुए। स्टेजिंग एरिया में 01 व्यक्ति घायल हुआ।
इस माॅक ड्रिल पर 9 कुमाऊॅ के कैप्टन अभिनव कुमार जो आब्र्जबर का काम कर रहे थे उन्हांेने अपनी पैनी निगाह रखी थी और समय-समय पर उसकी समीक्षा कर रहे थे। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दलीप सिंह कुॅवर ने भी आपदा परिचालन केन्द्र में बैठकर पूरी स्थिति का जायजा लिया। स्टेजिंग एरिया में मुख्य विकास अधिकारी जे0एस0 नागन्याल, अपरजिलाधिकारी के0एस0 टोलिया, उपजिलाधिकारी विवेक राय सहित अन्य इस माॅक ड्रिल से जुड़े अधिकारियों ने पूर्ण साॅवधानी के साथ कार्य किया। आपदा परिचालन केन्द्र/मास्टर कन्ट्रोल रूम में वनाधिकारी एस0आर0 प्रजापति, आर0सी0 शर्मा, परियोजना निदेशक डी0डी0 पंत, जिला विकास अधिकारी मोहम्मद असलम, आपदा प्रबन्धन अधिकारी राकेश जोशी, मुख्य चिकित्साधिकारी आर0सी0 पंत, अधीक्षण अभियन्ता लो0नि0वि0 हरीश पांगती, अर्थ एवं संख्याधिकारी जे0एस0 कालाकोटी, बी0एस0एन0एल0 के उप मण्डलीय अभियन्ता सहित अन्य अधिकारियों ने पूरी व्यवस्था का अपने-अपने स्तर से जायजा लिया और आज का यह माॅक ड्रिल सम्पन्न हुआ और स्टेजिंग एरिया से सभी टीमें पहुॅच गयी है।
  • GROUND 0

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

उत्तरकाशी : कूड़ा लक्की ड्रा में 2 दिन में बटें 230 से जादा कूपन

वीरेंद्र सिंह / उत्तरकाशी नगरवासियों को स्वच्छता के