उत्तरकाशी : बड़कोट में तहसील दिवस का आयोजन

उत्तरकाशी : बड़कोट में तहसील दिवस का आयोजन

  • उत्तरकाशी

जिलाधिकारी डा. आशीष कुमार श्रीवास्तव की अध्यक्षता में राजकीय इंटर कालेज परिसर बड़कोट में तहसील दिवस का आयोजन हुआ। तहसील दिवस में जिलाधिकारी ने दूर-दराज के विभिन्न गांव से आये हुये ग्रामीणों की जन समस्यायें सुनीं। तहसील दिवस में कुल 163 समस्याये/शिकायतें पंजीकृत हुयी। जिसमें अधिकांश समस्याओं का जिला स्तरीय अधिकारियों की मौजूदगी में निस्तारण किया गया। इस अवसर पर समाज कल्याण विभाग, कृषि विभाग, पशुपालन, राजस्व, सेवायोजन, डेयरी,उद्यान,मत्स्य, बाल विकास,स्वास्थ्य आदि विभागो ने अपने-अपने विभागीय स्टाल स्थापित कर आम जन को विभागीय योजनाओं की जानकारी दी।

स्टाल निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने मुख्य कृषि अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि काश्तकारों को प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की जानकारी अधिक से अधिक लोगो देकर लाभान्ति करें। समाज कल्याण विभाग के स्टाल के निरीक्षण के दौरान पेंशन फार्म भरते समय आधार कार्ड अनिर्वाय रूप से लें साथ ही मोबाईल नम्बर भी लिखें। उन्होने उपजिलाधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि तहसील के कर्मचारी को भी सहयोग के लिए तैनात करें।बाल विकास के स्टाल के निरीक्षण के दौरान ग्रौथ चार्ट की जानकारी देने के निर्देश दिये साथ ही टीवी, टीकाकरण की जानकारी भी लोगों को दें।

तहसील दिवस में ग्रामीणों एवं जनप्रतिनिधियों ने जिलाधिकारी को प्रमुख समस्याओं के बारे में बताया कहा कि सड़क, एवं पुल नहीं होने के कारण ग्रामीणों को आवाजाही हेतु समस्याओं को सामना करना पड़ रहा हैं। राजगढ़ी-गंगटाडी- सरनौल मोटर मार्ग एवं अन्य आंतरिक सड़को को लेकर ग्रामीणों ने पीएमजीएसवाई के द्वारा कार्य नहीं किये जाने को लेकर नाराजगी व्यक्त की। जिस पर जिलाधिकारी ने निम्न गुणवत्ता एवं कार्य में लापरवाही बरतने वाले ठेकेदार को ब्लैक लिस्टेड करने के निर्देश सभी निर्माण विभाग को दिये। इसके अलावा शिक्षा, पेयजल, बिजली,बागवानी  आदि समस्या भी ग्रामीणों की रही।

यमुनोत्री विधायक केदार सिह रावत ने कहा कि तहसील दिवस के अवसर पर ग्रामीणों की समस्याओं एवं शिकायतों का निस्तारण एक ही स्थान पर सभी जिला स्तरीय अधिकारियों की मौजूदगी में किया जा रहा हैं। राज्य सरकार की यही मंशा है कि किसी गरीब आमजन को कहीं इधर-उधर भटकना न पड़े इस हेतु उनकी समस्या का निदान उनके द्वार पर ही किया जा रहा हैं। उन्होने हाल ही में पौंटी-मौल्डा मोटर मार्ग में वाहन दुर्घटना में मारे गयें लागों के परिवार के आश्रितों को तत्कालिक सहायता राशि को शीघ्र रिलीज करने का आग्रह किया।  जिस पर जिलाधिकारी ने कहा कि मृतक परिवार के आश्रितों के नाम तत्कालिक सहायता राशि 50-50 हजार के चैक काट दियें है, शीघ्र उन्हें सहायता राशि उपलब्ध करायी जायेगी।

इससे पूर्व जिलाधिकारी डा. आशीष कुमार श्रीवास्तव एवं पुलिस अधीक्षक ददनपाल ने स्वच्छ भारत मिशन के तहत नगर पालिका परिसर बड़कोट में विशेष सफाई अभियान चलाया। उसके उपरान्त जिलाधिकारी ने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बड़कोट का औचक निरीक्षण किया। उन्होने स्वास्थ्य केन्द्र में भर्ती मरीजो का हालचाल जाना तथा शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की।

जिलाधिकारी ने कहा कि अस्पताल में रैबिज के इंजेक्शन अनिर्वाय रूप से रखने के निर्देश दिये। उन्होने अस्पताल प्रशासन को सभी वार्ड एवं अस्पताल परिसर को साफ एवं स्वच्छ रखने के लिए आवश्यक दिशा निर्देश दिये। उसके बाद जिलाधिकारी एवं विधायक यमुनोत्री केदार सिंह रावत एंव पुरोला राजकुमार ने यमुनोत्री धाम पर पैदल मार्ग पर आवाजाही करने वाले घोड़े,खच्चर, के लीद  हार्स मैन्योर बैग एवं कूड़ाधान का लोकार्पण किया। जिलाधिकारी ने बड़कोट के  तटाव में स्थित राजकीय महाविद्यालय का भी निरीक्षण किया।

इस मौके पर पुरोला विधायक राजकुमार, नगर पालिका अध्यक्षक बड़कोट अतोल सिंह रावत, पुलिस अधीक्षक ददनपाल, संयुक्त मजिस्ट्रेट/ उपजिलाधिकारी बड़कोट, रोहित मीणा, मनोज गोयल, जिला सेवायोजन अधिकारी विक्रमदास, सहायक निदेशक डेयरी प्रेमलाल, जिला युवा कल्याण अधिकारी विजय प्रताप भंडारी, सहित सैकड़ो ग्रामीण मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

वर्तमान सरकार ने 6 माह का कार्यकाल पूरा कर लिया

मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के नेतृत्व में