उत्तरकाशी जिलाधिकारी : फसल बीमा योजना की कृषकों को जानकारी होनी जरूरी, जाने क्या है योजना में?

उत्तरकाशी जिलाधिकारी : फसल बीमा योजना की कृषकों को जानकारी होनी जरूरी, जाने क्या है योजना में?

- in Uttarakhand, Uttarkashi
479
0
  • सौरब नौटियाल / सनसनी सुराग
उत्तरकाशी :
            जिलाधिकारी डा0 अशीष कुमार श्रीवास्तव ने सोमवार को मौसम आधारित फसल बीमा योजना की समीक्षा बैठक में कहा कि कृषकों को फसल बीमा योजना की जानकारी होनी जरूरी है तभी वे संसूचित फसलों का बीमा समय से करा सकेंगेे। पिछले वर्ष जो लक्ष्य था इस वित्तीय वर्ष में चार गुना बीमा कवर करने के निर्देश उन्होंने उद्यान विभाग और एग्रीकल्चर इंश्योरेंस कम्पनी को दिये। उन्होंने पुनर्गठित मौसम आधारित फसल बीमा योजना रबी- 206-17 का अधिक से अधिक प्रचार- प्रसार उद्यान सचल दल केन्द्रों  के माध्यम से करने के निर्देश जिला उद्यान अधिकारी को दिये। कहा कि इसकी कार्य योजना तैयार करें साथ ही उन्हें भी उपलब्ध कराये। इसकी माॅनिटरिंग करने के लिए उन्होंने मुख्य विकास अधिकारी को नामित किया। जिलाधिकारी ने कहा कि जनपद की जो  संसूचित फसले है उसका बीमा कवर किसी भी दशा में छूटना नहीं चाहिये। बीमा कवर से कृषक को उसकी फसल के नुकसान की भरपाई हो सकेगी। जिलाधिकारी ने इस बात पर जोर दिया कि जिन किसानों ने फसल के लिए ऋण लिया है उनकी फसल का बीमा अवश्य हो इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जायेगी। इस दौरान जिलाधिकारी ने सरकारी योजनाएं जिसमें वित्त पोषण किया जाना है से सम्बन्धित जो भी आवेदन बैंकों में लम्बित है  तत्काल सम्बन्धित लाभार्थी को वित्त पोषित करवायें इसके निर्देश मुख्य प्रबन्धक अग्रणी बैंक को दिये ।
     बैठक में जिला उद्यान अधिकारी राकेश कुमार ने बताया पुर्नगठित मौसम आधारित फसल बीमा योजना रबी के अन्तर्गत जनपद में सेब, आडू, और मटर की फसल चिन्हित है। उन्होंने कहा कि योजना के अन्तर्गत फलदार वृक्षों की योजना  के अनुसार प्रति वृक्ष व फसलवार प्रति हेक्टेयर बीमित राशि प्रदान जाती है। सेब की फसल का प्रीमियम दर 27 प्रतिशत है जिसमें 11-11 प्रतिशत केन्द्रांश एवं राज्यांश तथा कृषक देय प्रीमियम 05 प्रतिशत है। इसी प्रकार आडू  एवं मटर की फसल का प्रीमियम दर निर्धारित है । इसमें भी कृषक देय 05 प्रतिशत निर्धारित है। योजना के प्रचार- प्रसार के सम्बन्ध में जिला उद्यान अधिकारी ने बताया कि उद्यान पति दिनेश भ्टट द्वारा जानकारी दी कि उन्होंने बीस सेब के पेड़ो का नौ सौ साठ रूपये देकर बीमा करवाया है।  बीमा कम्पनी ने उन्हें बीमा की धनराशि प्रदान कर फसल के नुकसान की भरपाई कर दी है। श्री भट्ट ने भी आश्वासन दिया कि वे अपनी संस्था सृष्टि सामाजिक संस्थान के माध्यम से मौसम आधारित फसल बीमा योजना का प्रचार- प्रसार करेंगे।
           बैठक में  मुख्य विकास अधिकारी उदय सिंह राणा, मुख्य कृषि अधिकारी महिधर सिंह तोमर, मुख्य प्रबन्धक अग्रणी बैंक आर0के0 थपलियाल, उप महा प्रबन्धक नाबार्ड जी0एस0 चैधरी , एग्रीकल्चर इंश्योरेंस कम्पनी के अधिकारी सहित अन्य विभागीय अधिकाकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

चुनावी महाभारत : यमनोत्री में कोंग्रेस प्रत्तयासियों की भीड़

यमुनोत्री / अरविन्द थपलियाल विधानसभा: कांग्रेंस में कौन