अल्मोडा जिलाधिकारी ने कन्या भ्रूंड हत्या रोकने हेतु समय-समय पर अस्पतालों में औचक निरीक्षण के दिए निर्देश

अल्मोडा जिलाधिकारी ने कन्या भ्रूंड हत्या रोकने हेतु समय-समय पर अस्पतालों में औचक निरीक्षण के दिए निर्देश

- in Almora, Uttarakhand
129
0
  • अल्मोड़ा / सनसनी सुराग
अल्मोड़ा : कन्या भ्रूंड हत्या रोकने हेतु समय-समय पर अस्पतालों में औचक निरीक्षण करने के साथ ही जन जागरूकता फैलाने को प्राथमिकता दी जाय यह निर्देश जिलाधिकारी सविन बंसल ने आज पी0सी0पी0एन0डी0टी0 जिला सलाहकार समिति की एक महत्वपूर्ण बैठक में स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को दिये। उन्होंने कहा कि जिन क्लीनिकों को अल्ट्रासाउण्ड कराने की मान्यता प्राप्त है उसमे यह देखा जाय कि वहां पर कन्या भ्रूण हत्या का अपराध तो नही हो रहा है।
 जिलाधिकारी ने कहा कि निजी चिकित्सालयों के अल्ट्रासाउण्ड मशीन पर ट्रेकिंग डिवाइस लगाने की औपचारिकतायें जल्द से जल्द पूर्ण की जाय और नये क्लीनिकों को पूर्व में ही अल्ट्रासाउण्ड मशीन पर टेªकिंग डिवाइस लगाने की कार्यवाही सुनिश्चित की जाय। जिन अल्ट्रासाउण्ड केन्द्रों द्वारा यह डिवाइस 28 फरवरी 2017 तक स्थपित नही की जायेगी तो जिला स्तरीय समिति द्वारा उसको संज्ञान में लेते हुये विधि सम्वत कार्यवाही की जायेगी। जिलाधिकारी ने कहा कि सभी राजकीय चिकित्सालयों में यह टेªकिंग डिवाइस स्थापित है अतः निजी अल्ट्रासाउण्ड केन्द्रों को भी यह अनिवार्य रूप से लगाना होगा।
जिलाधिकारी ने निर्देश दिये कि डी0आई0एम0सी0 कमेटी प्रत्येक माह मे अल्ट्रासाउण्ड केन्द्र धारकों के यहां निरीक्षण करेंगे जिसकी रिर्पोट जिलाधिकारी कार्यालय में भी देगें। उन्होंने कहा कि जिन क्लीनिकों को अल्ट्रासाउण्ड करने की मान्यता प्रदान की जा रही है उसमें मानको का ध्यान एवं कमेटी से परीक्षण अवश्य करा लें।
बैठक में समिति द्वारा डा0 नवीन मिश्रा, रूद्राक्ष क्लीनिक अल्मोड़ा एवं डा0 डी0एस0 बंगारी क्लीनिक रानीखेत के आवेदनों को औपबन्धित स्वीकृति प्रदान की गई और उन्हें भी टेªकिंग डिवाइस स्थापित किये जाने के बाद ही पूर्ण स्वीकृति प्रदान की जायेगी। सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र चैखुटिया एवं गोविन्द सिंह मेहरा राजकीय चिकित्सालय रानीखेत के नवीनीकरण और रजिट्रेशन पर भी इस अवसर पर विस्तृत चर्चा की गई। इस अवसर पर समन्वयक हिमांशु मस्यूनी ने विस्तार पूर्वक पी0सी0पी0एन0डी0टी0 जिला सलाहकार समिति के क्रिया कलापों के बारे में बताया। इस महत्वपूर्ण बैठक में डा0 सविता हयंाकी, डा0 निशा पाण्डे, जिला शसकीय अधिवक्ता जी0सी0 फुलारा, ग्रास संस्था की रीता सौना और सुधा संस्था की ज्योत्सना खत्री, सहित चिकित्सा विभाग के अन्य अधिकारी उपस्थित थे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

चुनावी महाभारत : यमनोत्री में कोंग्रेस प्रत्तयासियों की भीड़

यमुनोत्री / अरविन्द थपलियाल विधानसभा: कांग्रेंस में कौन